Gossipganj
Film & TV News

इलियाना डीक्रूज | अपने फिगर को लेकर थी कभी हीन भावना की शिकार

लोगों के कमेंट्स से थीं परेशान

0 390

इलियाना डीक्रूज | अपने फिगर को लेकर थी कभी हीन भावना की शिकार, इलियाना डीक्रूज इन दिनों अपनी हालिया रिलीज ‘रेड’ को लेकर चर्चा में हैं। ‘रेड’ इस साल की दूसरी सबसे बड़ी फर्स्ट वीकेंड ओपनर साबित हुई है। इसने इस रेस में ‘पद्मावत’ के बाद दूसरा नंबर हासिल किया है, जबकि फर्स्ट वीकेंड पर कमाई के मामले में अक्षय कुमार की ‘पैडमैन‘ को पछाड़ दिया है। एक लड़की होने के नाते इलियाना कई बार हीनता के पलों से भी गुजरी हैं। वह कहती हैं, ‘पिछले दिनों जब #MeToo कैंपेन चल रहा था, तो बहुत हीनता महसूस की मैंने, मगर मैं उस बारे में बात नहीं करना चाहती।

इलियाना डीक्रूज कहती हैं कि मुझे लगता है कि औरतों के प्रति जो सोच है उसमें बदलाव लाने के लिए लोगों की मानसिकता को बदलना बहुत जरूरी है। हमारी शिक्षा और परवरिश में इसका बहुत बड़ा हाथ होता है। असल में छेड़छाड़ या लड़कियों के साथ की जानेवाली अश्लील हरकत को कई लोग गंभीरता से नहीं लेते। उन्हें लगता है कि छेड़ दिया, तो क्या हुआ? मगर यह मानसिकता गलत है। कई बार खबरों को पढ़कर हताशा और उदासी छा जाती है। यही वजह है कि कई बार मैं न्यूज देखती तक नहीं। बहुत शर्म महसूस होती है।’

इलियाना डीक्रूज इस बात से इनकार नहीं करतीं कि फिगर और खूबसूरती को लेकर अक्सर लड़कियों पर प्रेशर बनाया जाता है। उनका कहना था, ‘यह सच है कि अतीत में मुझे सेल्फ एस्टीम और वजन के इश्यूज रहे हैं। मैं हमेशा से अपने शरीर को लेकर सजग रहा करती थी क्योंकि मेरा बॉडी टाइप बहुत ही अनयूजल है। मैं जब स्कूल में थी, तो मुझे बहुत चिढ़ाया जाता था क्योंकि मेरे हिप्स का साइज बहुत बड़ा हुआ करता था। हालांकि भारतीय महिलाओं का शरीर भरा-पूरा ही होता है, मगर जब लोग मुझे चिढ़ाते थे, तो लगता था कि मुझमें ही कमी है। फिर मैं फिल्मों में आ गई।

इलियाना डीक्रूज ने आगे कहा कि सच कहूं तो तीन साल पहले तक अपने वजन को लेकर मुझ पर पागलपन सवार था। मेरा वजन 50 किलो था और मैं अपने कद के हिसाब से मैं बहुत पतली थी। मेरी कमर 22 इंच थी, इसके बावजूद मुझे लगता था कि मेरी कमर पर चर्बी है। मेरे शरीर में फैट है। बहुत मुश्किल से उस सोच से बाहर निकली हूं मैं। आज मैं अपने शरीर को लेकर खुश हूं। अपनी फिगर को लेकर मेरा नजरिया बदल चुका है। मुझे लगता है कि मेरा खुश रहना ज्यादा जरूरी है। अगर वजन थोड़ा बहुत बढ़ भी गया तो क्या दिक्कत है।’

इलियाना डीक्रूज का कहना था, ‘एक लड़की होने के नाते मेरे करियर का जो ग्राफ रहा है, वह मेरे लिए सबसे ज्यादा नाज करनेवाली बात है। मुझे, मेरे माता-पिता और परिवार को इस बात पर बहुत गर्व होता है कि मैंने इस इंडस्ट्री में अपने बलबूते पर अपना नाम बनाया। मैंने कभी किसी से फेवर नहीं लिया न ही किसी की सिफारिश के बलबूते पर आगे बढ़ी। मुझे जो भी प्रस्ताव और किरदार मिले अपनी प्रतिभा के दम पर मिले। मुझे लगता है, मेरे माता-पिता ने मुझे उतना मजबूत बनाया कि मैं कहीं झुकूं नहीं और सिर उठाकर चलती रहूं।’

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...