Gossipganj
Film & TV News

अथर्व फाउंडेशन ने किया शहीदों का सम्मान, बॉलीवुड की हस्तियां हुईं शामिल

0 105

अथर्व फाउंडेशन ने किया शहीदों का सम्मान, बॉलीवुड की हस्तियां हुईं शामिल, पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान कपिल देव ने बुधवार को मुंबई में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस, विक्रम गोखले, आफताब शिवदासानी, नील नितिन मुकेश और रोहिणी हट्टागडी के साथ भारतीय सशस्त्र बलों को श्रद्धांजलि देने के लिए अथर्व फाउंडेशन ने विशेष पहल की।

मीडिया से बातचीत के दौरान, देव ने इस पहल की प्रशंसा की और कहा, “मुझे इस महान पहल का हिस्सा बनने में बहुत खुशी हुई क्योंकि यहां हम अपने वास्तविक नायकों के साथ वार्तालाप और बातचीत कर रहे थे। मुझे लगता है कि इस पहल के साथ जुड़े लोग वास्तव में बड़े भावुक और जुनूनी लोग हैं और मुझे लगता है कि यह एक  मिशन की तरह है और हमें इस मिशन को आगे ले जाना है। ”

अथर्व फाउंडेशन ने “वन फॉर ऑल, ऑल फॉर वन” नामक एक कार्यक्रम का आयोजन करके बुधवार, 31 जनवरी, 2018 को देश के ‘रियल अनसंग  हीरोज’ का स्वागत किया है। फाउंडेशन का मानना है कि एक राष्ट्र का विकास अपने समाज के विभिन्न वर्गों के विकास पर निर्भर करता है। इस महान विचार ने हर पहलू में खुद को आगे बढ़ाया है। इसी दृष्टि से, अथर्व फाउंडेशन ने भारतीय सैनिकों को सम्मानित करने और प्रशंसा करने के लिए एक नया कदम उठाया है, जो हमेशा राष्ट्र के लिए अपनी जान की बलि देने के लिए तैयार रहते हैं, जिससे कि इस कार्यक्रम के माध्यम से नागरिक  रातों  में शांतिपूर्ण रह सकें।

अथर्व फाउंडेशन द्वारा  वन फॉर ऑल, ऑल फॉर वन आयोजित कार्यक्रम में  देश के सैनिकों  और सीमा की रक्षा करते हुवे शहीदों को सम्मानित किया गया।  वन फॉर आल, आल फॉर वन अपने आप में एक ऐसी पहल है जिसका उल्लेख और परिकल्पना श्री सुनील राणे, अध्यक्ष अथर्व फाउंडेशन द्वारा किया गया है। 10 शहीदों की बहादुरी और वीरता की कहानियों को उल्लेख करते हुवे  अथर्व फाऊंडेशन व्यापारियों, राजनेताओं, मुम्बई फिल्म उद्योग की प्रमुख हस्तियों, खेल जगतकी हस्तियों और सशस्त्र तथा पुलिस बलों के बरिष्ठ कर्मियों की उपस्थिति में इन असली नायकों का सम्मानकिया गया ।

हेमा मालिनी, कपिल देव,  अमीषा पटेल, आफताब शिवदासानी, मधुर भंडारकर, रोहिणी हट्टंगड़ी, विक्रम गोखले, नील नितिन मुकेश , सोनल चौहान और सुनील राणे जैसी प्रसिद्ध हस्तियों द्वारा 10 दिलेर सैनिको के  बहादुरी  की कहानियाँ सुनाई गयी ।अथर्व फाउंडेशन की पहल के बारे में बात करते हुए रोहिणी हट्टानगडी ने कहा, “आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि आज हम अपने भारतीय सैनिकों को सम्मानित कर रहे हैं जिन्होंने हमारे और हमारे देश की रक्षा के लिए अपना जीवन बलिदान किया। मुझे इस पहल का हिस्सा बनकर काफी अच्छा महसूस हो रहा  है। मैं अथर्व फाउंडेशन को बधाई देना चाहती  हूं जिन्होंने इस तरह की बड़ी पहल का आयोजन किया है। मुझे लगता है कि हमें अपनी देशभक्ति दिखाने के लिए हमारी सेना में शामिल होने की ज़रूरत नहीं है। हम अपने देशभक्ति को छोटी चीजें करके व्यक्त कर सकते हैं जैसे हमारे परिवेश को साफ करना और संकट में एक दूसरे की मदद करना “।

श्री सुनील राणे के नेतृत्व में अथर्व फाउंडेशन की टीम ने हिमाचल प्रदेश, असम, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, जम्मू और कश्मीर, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के राज्यों में स्थित शहीदों के परिवारों का दौरा किया। कर्नल सुधीर राजे (सेवानिवृत्त) के साथ श्री सुनील राणे ने स्वयं शहीदों के परिवारों का दौरा किया और उनके साथ बातचीत किया। उनकी टीम विभिन्न राज्यों में स्थित राज्य और जिला सैनिक बोर्डों के निदेशकों के पास भी गई। जनवरी 2018 में अथर्व संकाय और छात्रों की टीम ने सतारा, महाराष्ट्र में सैनिक ताकली गांव का दौरा किया और पूर्व सैनिकों तथा शहीदों के परिवारों से बातचीत किया। प्रत्येक रविवार की सुबह, अथर्व फाउंडेशन के स्वयंसेवकों ने इस कार्यक्रम के लिए जागरूकता अभियान चलाया। विभिन्न कॉलेजों में, जागरूकता कार्यक्रमआयोजित किए गए और युवाओं को देशभक्ति के लिए प्रेरित किया गया और उन्हें कार्यक्रम में शामिल होने केलिए आमंत्रित किया गया। कार्यक्रम के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए अथर्व फाउंडेशन के स्वयंसेवकों ने गणपति मंडल, सोसाइटियों, गैर सरकारी संगठनों का भी दौरा किया।

इस अवसर  सम्मानित अतिथि के रूप में कप्तान बाना सिंह (पीवीसी), सुबेदार योगेंद्र सिंह यादव (पीवीसी), नायब सुबेदार संजय कुमार (पीवीसी) और लेफ्टिनेंट जनरल विश्वम्भर सिंह (जीओसी) उपस्थितरहें इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री नितिन गडकरी (माननीय केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग तथा नौवहन,भारत सरकार), प्रो. जगदीश मुखी (राज्यपाल, असम) और श्री देवेंद्र फडणवीस (माननीय मुख्यमंत्री, महाराष्ट्र)ने भी सैनिको के जज़्बे को सलाम किया ।

अथर्व फाउंडेशन के अध्यक्ष श्री सुनील राणे ने कहा कि ;वन फॉर ऑल, ऑल फॉर वन अपने आप में एक अद्वितीय कार्यक्रम है क्योंकि यह देशभक्त बनने के लिए युवाओं के बीच जागरूकता पैदा करेगा दुश्मन से लोहा लेकर अदम्य सहस का परिचय देते हुवे वीर शहीदों और सैनिको की यह गाथा देश के प्रत्येक नागरिक तक पहुंचनी चाहिए।  हम सब आज सुरक्षित है , चैन से सोते है , त्यौहार मानते है क्योकि हमारे लिए सीमा पर जवान देश के रक्षा के लिए हमेशा तैयार है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री देवेंद्र फडणवीस में देशभक्तो को सलाम करते हुवे वीर रास कविता का पाठ भी किया साथ ही देश के सभी नागरिको से आह्वाहन किया कई देश  की सीमाओँ पर सैनिक हमारे लिए तैनात है हमें देश के अंदर भ्र्ष्टाचार जैसी बुराइयों के खिलाफ लड़कर राष्ट निर्माण में योगदान करना चाहिए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...