Gossipganj
Film & TV News

अटल बिहारी वाजपेयी की दर्द भरी कविता में जगजीत की आवाज़, शाहरूख का अभिनय

0 854

अटल बिहारी वाजपेयी की दर्द भरी कविता में जगजीत की आवाज़, शाहरूख का अभिनय, भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता और भारत की मशहूर शख्सियत अटल बिहारी वाजपेयी का 93 साल की उम्र में निधन हो गया। एक राजनेता के अलावा वाजपेयी एक जाने-माने साहित्यकार और पत्रकार भी रह चुके थे। उनकी ढेरों रचनाएं आज भी कई साहित्य प्रेमियों के दिलों को छूती हैं।

अटल बिहारी वाजपेयी की कुछ कविताओं को तो हिंदी सिनेमा में भी फिल्माया गया है। उन्हीं में से एक उनकी मशहूर कविता ‘क्या खोया क्या पाया जग में’ है। वाजपेयी जी इस कविता से हर कोई वाकिफ है। उनकी इस कविता को साल 1999 में एक्टर शाहरुख खान पर फिल्माया गया है। ‘क्या खोया क्या पाया जग में’ कविता को मशहूर गायक जगजीत सिंह ने अपनी खूबसूरत आवाज में गाया है।

इस एलबम का नाम ‘संवेदना’ है। अटल बिहारी वाजपेयी ने अपने साहित्यिक जीवन में ‘क्या खोया क्या पाया जग में’ कविता के अलावा ‘मौत से ठन गई’, ‘मैं न चुप हूं न गाता हूं’ और ‘राह कौन सी जाऊं मैं’ जैसे कई शानदार कविताएं लिखी हैं। माना जाता है कि वाजपेयी भारत के ऐसे प्रधानमंत्री थे जिनका विपक्षी पार्टियां भी काफी सम्मान करती थीं।

बात करें ‘क्या खोया क्या पाया जग में’ कविता के वीडियो की तो जिंदगी के कई पहलुओं को समझाती इस कविता के वीडियो की शुरुआत में ही अटल बिहारी वाजपेयी को दिखाया गया है। इसके बाद वीडियो में कई जगह शाहरुख खान और अटल बिहारी वाजपेयी की कई तस्वीरें देखने को मिलती है। वाजपेयी जी की इस कविता के वीडियो को सारेगामा गजल ने अपने यूट्यूब चैनल पर शेयर किया है।

लंबे वक्त से बीमार चल रहे देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का एम्स में निधन हो गया। वाजपेयी 94 वर्ष के थे। उन्होंने पांच बजकर पांच मिनट पर आखिरी सांस ली। पिछले तीन दिनों से उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। पिछले 24 घंटे से उनकी तबीयत बेहद नाजुक बनी हुई थी। 2009 में उन्हें आघात आया था, जिसके बाद उन्हें लोगों को जानने-पहचानने की समस्याएं होने लगीं। बाद में उन्हें डिमेशिया यानी भूलने की बीमारी भी हो गई। अब वह किसी को पहचान नहीं पा रहे थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...