सनी देओल हुए 63 बरस के, जन्मदिन विशेष, जानिए अनकही बातें

सनी देओल, जो सबसे पसंदीदा बॉलीवुड अभिनेताओं में से एक है, आज 63 वर्ष के हो रहे हैं। वह कई सालों से बॉलीवुड से जुड़े है और भारतीय सिनेमा के बेहतरीन एक्शन नायकों में से एक है। 19 अक्टूबर 1956 को जन्में सनी देओल को अभिनय की कलाविरासत में मिली। उनके पिता धमेन्द्र हिंदी फिल्मों के जाने माने अभिनेता थे। घर में फिल्मी माहौल रहने के कारण सनी देओल अक्सर अपने पिता के साथ शूटिंग देखने जाया करते थे। इस वजह से उनका भी रूझान फिल्मों की ओर हो गया और वह भी अभिनेता बनने के ख्वाब देखने लगे।

सनी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई से पूरी की। इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड के मशहूर ओल्ड वेब थियेटर में अभिनय की शिक्षा पूरी की। सनी देओल ने अपने अभिनय करियर की शुरूआत अपने पिता द्वारा निर्मित फिल्म बेताब से की।

1985 में सनी को एक बार फिर से राहुल रवैल के निर्देशन में बनी फिल्म अर्जुन में काम करने का अवसर मिला जो उनके सिने करियर की एक और सुपरहिट फिल्म साबित हुई। इस फिल्म में उन्होंने एक ऎसे युवा की भूमिका निभाई जो राजनीति के दलदल में फंस जाता है। फिल्म की सफलता के साथ ही सनी देओल एक बार फिर से इंडस्ट्री में अपनी खोई हुई पहचान बनाने में कामयाब हो गए।

वर्ष 1990 में प्रदर्शित फिल्म घायल सनी के सिने करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में शुमार की जाती है। फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के फिल्म फेयर पुरस्कार के साथ ही राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। वर्ष 1991 में प्रदर्शित फिल्म नरसिम्हा सनी देओल के सिने करियर की सुपरहिट फिल्मों में शुमार की जाती है।

फिल्म दामिनी सनी के सिने करियर की एक और महत्वपूर्ण फिल्म साबित हुई। इस फिल्म में सनी देओल ने अपनी विशिष्ट संवाद अदायगी से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये वह सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के राष्ट्रीय पुरस्कार और फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किये गये। वर्ष 1997 में प्रदर्शित फिल्म बार्डर और जिद्दी की कामयाबी के बाद वह फिल्म इंडस्ट्री में एक बार फिर से अपनी खोई हुई पहचान पाने में कामयाब हो गये। बार्डर में उन्होंने महावीर चक्र विजेता मेजर कुलदीप सिंह के किरदार में जान डाल दी थी।

वर्ष 1999 में सनी देओल ने फिल्म दिल्लगी के जरिए निर्माण और निर्देशन के क्षेत्र में भी कदम रख दिया। वर्ष 2001 में प्रदर्शित फिल्म गदर एक प्रेम कथा सनी देओल के सिने करियर की सर्वाधिक सुपरहिट साबित हुई।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

You might also like