परमाणु : द स्टोरी ऑफ पोखरण राजनीतिक फिल्म नहीं, जॉन अब्राहम ने कहा

परमाणु : द स्टोरी ऑफ पोखरण राजनीतिक फिल्म नहीं, जॉन अब्राहम ने कहा , बॉलीवुड एक्टर जॉन अब्राहम का कहना है कि उनकी आगामी फिल्म परमाणु : द स्टोरी ऑफ पोखरण एक मनोरंजक फिल्म है, जो सच्ची कहानी पर आधारित है।

यह फिल्म 1998 में पोखरण में हुए परमाणु परीक्षण पर आधारित है, जब भारतीय जनता पार्टी के नेता अटल बिहारी वाजपेयी देश के प्रधानमंत्री थे। जब देश के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी थे उन्होंने पोखरण में 5 परमाणु बम के परीक्षण करवाए थे। यह परीक्षण इस तरह किये गये कि पूरे विश्व को इसकी बिल्कुल भी पता नही चला और परमाणु परीक्षण सफल होने के बाद विश्व को इसके बारें में जानकारी डी गई। जॉन अब्राहम के अलावा इस फिल्म में डायना पेंटी और बोमन ईरानी लीड किरदार में नजर आएंगे।

क्या यह फिल्म वाजपेयी को समर्पित है, इस सवाल पर जॉन ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह एक रोचक फिल्म है। अटल जी हमारे देश के प्रधानमंत्री रहे हैं, लेकिन यह फिल्म है और इसका मनोरंजक होना जरूरी है। न तो हम राजनीतिक हैं और न ही इस फिल्म में राजनीति से जुड़ी कोई भी चीज दिखाई जा रही है। हमने इसे मनोरंजक बनाने की कोशिश की है।‘

इस फिल्म से जॉन को काफी उम्मीदें हैं। इस फ़िल्म के लिए वो मेहनत भी करा रहे हैं। पिछले बार जॉन फिल्म ढिशूम में नजर आएं थे। इस फिल्म में उनके साथ वरुण धवन और जैकलिन फर्नाडीज दिखें थे।

इस विषय को चुनने के बारे में जॉन ने कहा, “प्रेरणा और अर्जुन क्रीअर्ज एंटरटेनमेंट के मन में इस फिल्म का विचार आया। जब वह इस फिल्म के विषय के साथ मेरे पास आए, तो मुझे यह काफी पसंद आई और इसके बाद हमने शुरुआत की। हम भाग्यशाली हैं कि इसकी पटकथा अच्छी तैयार हुई।

You might also like