वर्चुअल सेक्स रिलेशनशिप कहानी कहती है फिल्म लेंस , क्या होता है जब कोई पुरुष स्काइप पर किसी महिला के साथ वर्चुअल सेक्स रिलेशनशिप का आदी हो जाता है और अपनी असली ज़िंदगी नहीं जी पाता है? यही बहुभाषीय फ़िल्म लेंस की कहानी का आधार है। कई अंतरराष्ट्रीय अवॉर्ड जीतने के बाद अब ये फ़िल्म 12 मई को तमिल, अंग्रेज़ी और मलयालम में रिलीज़ हो रही है।

फ़िल्म के निर्देशक और अभिनेता जयप्रकाश राधाकृष्णनन कहते हैं, “आज सूचना प्राद्योगिकी के दौर में लोग अपनी निजता कैसे खो देते हैं और कैसे वर्चुअल सेक्स के आदी हो जाते हैं ये एक अहम विषय है और इस पर परिजनों को अपने बच्चों से बात करनी चाहिए।” राधाकृष्णनन सूचना प्राद्योगिकी के क्षेत्र में काम कर चुके हैं।

इसे भी पढ़िए:   हर्षाली जाइन को जब प्रोड्यूसर ने एक रात कम्प्रोमाइनज़ करने को कहा, खुलासा

तमिल भाषा में लेंस फिल्म को रिलीज़ कर रहे वेत्रीमारन कहते हैं, “निजी वीडियो में दिख रहे व्यक्ति की नैतिकता पर सभी सवाल उठाते हैं लेकिन जो लोग वीडियो रिलीज़ करते हैं उन पर कोई सवाल नहीं उठाता। ऐसे भी मामले सामने आए हैं जब इन वीडियो की वजह से लोगों को ब्लैकमेल किया गया हो। लेंस फ़िल्म निजता के हनन पर विस्तार से बात करती है।”

इसे भी पढ़िए:   हनी सिंह अगर इस वाले काम को हां कर दें तो उन्हें मिलेंगे 25 करोड़ रूपये

फ़िल्म की कहानी पर जयप्रकाश कहते हैं, “गैजेट्स बहुत मददगार होते हैं और हमारी ज़िंदगी को आसान बना देते हैं लेकिन वो एक संभावित ख़तरा भी हैं और हमारी निजी जानकारियां वर्चुअल दुनिया को उपलब्ध करवा देते हैं।”वो कहते हैं, “मैंने कनाडा की एक युवती की कहानी पढ़ी थी जिसने अपना निजी वीडियो ऑनलाइन लीक होने के बाद पड़ोसियों और अनजान लोगों के ताने से तंग आकर फ़ेसबुक के लाइव वीडियो पर आत्महत्या कर ली थी। ऐसे ही घटनाएं अब भारत में भी हो रही हैं।”

इसे भी पढ़िए:   जलपरी बन गई हैं भोजपुरी एक्ट्रेस गुंजन पंत, अब तो पानी में भी आग लगा देंगी हॉटनेस से

LEAVE A REPLY

three × 4 =