Gossipganj
Film & TV News

रजनीकांत अब उतरेंगे राजनीति के दंगल में, खुद की घोषणा

0 73

रजनीकांत अब उतरेंगे राजनीति के दंगल में, खुद की घोषणा, दक्षिण भारत के सुपरस्टार रजनीकांत अब राजनीति में आने की घोषणा कर चुके है। रजनीकांत के प्रति लोगों की दीवानगी पागलपन के हद तक जाती है। 2021 के तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में रजनीकांत की नई पार्टी भी मैदान में होगी। अब वक़्त बताएगा कि लोग उनमें केवल अभिनेता देखते हैं या नेता भी। टी रामा राव की फिल्म अंधा कानून रजनीकांत की पहली हिन्दी फिल्म थी। इस फ़िल्म में अमिताभ बच्चन, हेमा मालिनी और रीना रॉय भी थीं। 1985 में सुपरस्टार रजनीकांत ने 100 फिल्में पूरी कीं। श्री राघवेंद्र रजनीकांत की 100वीं फिल्म थी और इसमें उन्होंने हिंदू संत राघवेंद्र स्वामी का रोल किया था। 1988 में रजनीकांत ने ब्लडस्टोन में इंग्लिश ऐक्शन से आगाज किया था।

रजनीकांत की फिल्म राजा चाइना रोजा पहली तमिल फिल्म थी जिसमें एनिमेशन भी शामिल किया गया था। 1995 में बनी फ़िल्म आतंक ही आतंक में रजनीकांत आमिर खान और जूही चावला के साथ दिखे।  तमिल, हिन्दी, मलयालम, कन्नड़ और तेलुगू के साथ रजनीकांत ने भाग्य देबता नाम की एक बांग्ला फिल्म में भी अभिनय किया है। जीजाबाई और रामोजी राव की चार संतानों में शिवाजी राव गायकवाड़ सबसे छोटे थे। जीजाबाई ने 12 दिसंबर 1950 को बेंगलुरु में शिवाजी राव गायकवाड़ को जन्म दिया था। यही शिवाजी राव आगे चलकर रजनीकांत बने। रजनीकांत पांच साल के थे तभी उनकी मां का निधन हो गया। मां के निधन के बाद इस परिवार के लिए घर चलाना इतना आसान नहीं था। रजनीकांत ने घर चलाने के लिए कूली तक का काम किया। रजनीकांत अब भले ही सुपरस्टार हों लेकिन पहले रजनीकांत बस कंडक्टर थे।

रजनीकांत के दोस्त राज बहादुर ने उनके अभिनेता बनने के सपने को ज़िंदा रखा। बहादुर ने ही रजनीकांत को मद्रास फ़िल्म इंस्टिट्यूट में दाखिला लेने के लिए कहा था। दोनों में अब भी दोस्ती है। रजनीकांत ने तमिल फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री बालचंद्र की फिल्म ‘अपूर्वा रागनगाल’ से मारी थी। इस फ़िल्म में कमल हासन और श्रीविद्या भी थीं। रजनीकांत ने अपने अभिनय की शुरुआत कन्नड़ नाटकों से की थी। दुर्योधन की भूमिका में रजनीकांत काफी लोकप्रिय हुए थे।कई नकारात्मक किरदारों का अभिनय करने के बाद रजनीकांत पहली बार नायक के रूप में एसपी मुथुरमन की फ़िल्म भुवन ओरु केल्विकुरी में दिखे थे। इस फिल्म के बाद मुथुरमम और रजनीकांत  की जोड़ी खूब जमी और इन्होंने 25 फ़िल्मों में काम किया। रजनीकांत को पहली व्यावसायिक सफलता बिल्ला फ़िल्म में मिली। 1978 में अमिताभ बच्चन अभिनित फ़िल्म डॉन बिल्ला की ही रीमेक थी।

रजनीकांत ने पहली बार मुंदरू मूगम में तिहरा रोल किया था। इस फिल्म के लिए उन्हें तमिलनाडु सरकार से बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला था। रजनीकांत एक कन्नड़ नाटक में अभिनय कर रहे थे तभी उन्हें फ़िल्म निर्देशक के बालचंद्र ने नोटिस किया था। नाटक देखने के बाद बालचंद्र ने रजनीकांत से तमिल सीखने के लिए कहा था।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...