रत्ना शाह पाठक को पाकिस्तानी कलाकारों से इतना प्रेम क्यों है?

रत्ना शाह पाठक को पाकिस्तानी कलाकारों से इतना प्रेम क्यों है? , रत्ना शाह पाठक का कहना है कि फवाद खान जैसे पाकिस्तानी अभिनेताओं को भारत में काम नहीं करने देना समस्या है। रत्ना ने कहा, ”कोई भी दुखी नहीं है कि इन बेचारे लड़कों को इंडस्ट्री से बाहर कर दिया गया।” गौरतलब है कि रत्ना ने फवाद के साथ खूबसूरत (2014) और कपूर एंड संस (2016) में काम किया था।

दरअसल फवाद की बॉलीवुड पारी फिल्‍म ‘खूबसूरत’ से शुरू हुई। इस फिल्‍म में उनकी हीरोइन सोनम कपूर थी। फिल्‍म को जनता और आलोचकों से ठीक-ठाक रेस्‍पांस मिला। वहीं फवाद को आलोचकों ने सराहा और फवाद को फिल्‍म की हाईलाइट में से एक बताया। फिल्‍म को यूके, यूएई और पाकिस्‍तान में भी सराहा गया क्‍योंकि सीरियल्‍स में काम करने की वजह से उनकी इन देशों में भी अच्‍छी फैन फालोइिंग है।

पाकिस्‍तानी फिल्‍म खुदा के लिए में काम किया। फिल्‍म को काफी सफलता भी मिली लेकिन खान इससे ज्‍यादा खुश नहीं हुए क्‍योंकि उस समय वे पाकिस्‍तानी सिनेमा के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर से संतुष्‍ट नहीं थे।

आपको बता दें कि रत्ना पाठक की शादी हिंदी सिनेमा के सबसे बेहतरीन कलाकार नसीरुद्दीन शाह से हुईं है।  इनके दो बेटें हैं – विवान शाह-इमाद शाह।  इमाद एक गिटारिस्ट और संगीतकार हैं और विवान एक अभिनेता हैं। अब अचानक से रत्ना पाठक को फवाद खान की याद क्यो आ रही है। वो उन्हें बॉलीवुड में क्यों देखना चाहती हैं ये जानना दिलचस्प होगा। वैसे आपको बता दें कि कभी बॉलीवुड में किस्मत आजमाने वाली पाकिस्तानी अदाकारा वीना मलिक जब से न्यूज़ एंकर बन गई हैं। वो लगातार भारत को अपने निशाने पर रखती है।

You might also like