हृषिकेश मुखर्जी को इस फिल्म के लिए जबरन डेट देने पहुंच जाया करते थे राजेश खन्ना

हृषिकेश मुखर्जी का नाम ज़ुबां पर आते ही फिल्म आनंद घूम जाती है। अशोक कुमार, राज कपूर, दिलीप कुमार, देव आनंद, राजेश खन्ना, अमिताभ बच्चन जैसे अभिनेताओं के साथ फिल्में बनाने वाले हृषिकेश मुखर्जी का सेट पर ऐसा दबदबा होता था कि कोई स्टार न तो नखरे दिखाता था, न ही किसी दृश्य को ‘एक बार और फिल्मा लो’ कहने की हिम्मत करता था। कलाकार हृषिकेश मुखर्जी के साथ फिल्म करने के सपने देखा करते थे।

एक लाख से ज्यादा मेहनताना पाने वाले संगीतकार शंकर-जयकिशन हृषिकेश मुखर्जी की फिल्म ‘अनुराधा’ (1960) मात्र 20 हजार में करने को तैयार थे। मगर फिल्म के लिए फिट नहीं होने से हृषिकेश मुखर्जी ने पंडित रविशंकर को संगीतकार के रूप में लिया। हृषिदा के करिअर में एक वक्त ऐसा भी आया था, जब वह राजेश खन्ना को देखते ही अपने सहायकों (असिस्टेंटों) से कहते थे, ‘भागो पिंटू बाबा आ रहा है।’

यह किस्सा ‘आनंद’ (1971) का है। राजेश खन्ना को इसमें अपनी पंजाबी आनंद सहाय की भूमिका इतनी पसंद थी कि वह चाहते थे कि हृषिदा जल्दी से यह फिल्म बना लें। सीमित संसाधनों के कारण शूटिंग शुरू होने में समय लग रहा था और खन्ना बार-बार हृषिकेश मुखर्जी के यहां आ धमकते थे, शूटिंग की डेट देने के लिए। इससे हृषिदा परेशान थे। जब भी उन्हें खन्ना के आने का पता चलता, वह अपनी टीम के लोगों से कहते, ‘भागो पिंटू बाबा डेट देने आ रहा है।’ आमतौर से फिल्म जगत में उलटा होता है। निर्माता को कलाकारों की डेट पाने के लिए उनके चक्कर लगाने पड़ते हैं।

‘आनंद’ में राज कपूर और हृषिकेश मुखर्जी के रिश्तों की झलक थी। राज कपूर तब बीमार थे और हृषिदा को यह भय सताता था कि अगर राज कपूर नहीं रहे, तो उनका क्या होगा। फिल्म में राजेश खन्ना पंजाबी आनंद सहाय की भूमिका कर रहे थे और अमिताभ बच्चन बंगाली डॉ भास्कर बनर्जी की। राज कपूर पंजाबी थे और हृषिदा बंगाली।

राज कपूर हृषिदा को बाबू मोशाय कह कर बुलाते थे। फिल्म में राजेश खन्ना को भी बाबू मोशाय संबोधित किया गया था। 1970 के दशक में ‘जंजीर’ से अमिताभ बच्चन ने जिस एंग्री यंगमैन को सिनेमा के पर्दे पर उतारा, उसके बीज हृषिदा की ‘आनंद’ में देखे जा सकते हैं। इस फिल्म में अमिताभ ने ऐसे डॉक्टर की भूमिका निभाई थी, जो अपने मित्र मरीज को तिल-तिल मरते देखता है, मगर असहाय और लाचार है कि उसे बचा नहीं सकता। उसके अंदर का आक्रोश और लाचारी, अमिताभ बच्चन ने बखूबी अभिव्यक्त की थी।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like