मुजफ्फरनगर- द बर्निंग लव की रिलीज़ का विरोध, पद्मावती के बाद गाज इस फिल्म पर

मुजफ्फरनगर- द बर्निंग लव की रिलीज़ का विरोध, पद्मावती के बाद गाज इस फिल्म पर , मुजफ्फरनगर- द बर्निंग लव 17 नवंबर को रिलीज़ हो रही है। फ़िल्म मुज़फ्फरनगर दंगे की पृष्ठभूमि में जन्मी एक घटना पर आधारित है। यह हिंसक घटनाओ के बीच में दो दिलों के प्यार की बेहद भावनात्मक कहानी है। यह फिल्म दर्शकों के बीच भी प्रेम का संदेश पहुंचाती है।

अब इस फिल्म की रिलीज़ रोकने के लिए भी विरोध हो रहे हैं। इससे पहले पद्मावती और गेम ऑफ अयोध्या की रिलीज़ का भी विरोध हो रहा है। फिल्म के निर्देशक  हरीश कुमार के मुताबिक, ‘यह फिल्मकार ही हैं जिनमें सांप्रदायिक दंगों के बुरे प्रभाव को दिखाने की हिम्मत होती है। कला को इसी नजर से देखना चाहिए। अगर फिल्म में कुछ गलत होता तो सेंसर बोर्ड इसे रोक देता। कौन लोग हैं जो फिल्म की रिलीज रोकना चाहते हैं? ऐसा है तो फिर सेंसर बोर्ड का क्या अर्थ है?’

इस मुद्दे पर फिल्म के निर्देशक का कहना है कि अगर फिल्म में कुछ गलत होता तो सेंसर बोर्ड इसे पास क्यों करता। 2013 में उत्तर प्रदेश में हुए मुजफ्फरनगर दंगों पर बेस्ड फिल्म ‘मुजफ्फरनगर: द बर्निग लव’ को लेकर विरोध शुरू हो गया है।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमेंTwitterपर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like