पाओली दाम जिनकी हनीमून के दौरान बिगड़ गई थी हालत

पाओली दाम (Paoli Dam) आज अपना 40वां जन्मदिन मना रही हैं। पाओली डैम का जन्म 4 अक्टूबर 1980 को पश्चिम बंगाल में हुआ था।  उनके पिता का नाम अमोल डैम और माँ नाम पापिया डैम है।  उनका एक छोटा भाई है-मणिक डैम। 

पाओली दाम का नाम पाओली क्यों पड़ा?

पाओली के मुताबिक उनके माउंटेनियर पिता ने उनका नाम पहाड़ की चोटी के नाम पर रखा। उनकी डांस टीचर मां ने उनको ग्लैमर इंडस्ट्री में आने के लिए प्रेरित किया।

पाओली दाम ने अपनी शुरुआती पढ़ाई लोरेटो स्कूल से पूरी की है।  उन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई विद्यासागर कॉलेज कलकत्ता यूनिवर्सिटी से पूरी की है।  उन्होंने रयान विज्ञानं में मास्टर्स की मानक डिग्री कलकत्ता यूनिवर्सिटी से उपाधि भी हासिल की हैं।

पाओली दाम ने इस बंगाली सीरियल से किया डेब्यू

उन्होंने अपने करियर की शुरुआत बंगली सीरियल से की थी। पाओली रिसर्चर या पायलट बनना चाहती थीं लेकिन उनकी किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत बंगाली फिल्म तीन यारी कथा से की थी।

पाउली ने अग्निपरीक्षा, आई लव यू, जमाई राजा, कालबेला, तीनमूर्ति, मोनेर मानुष, बेडरूम, तीन यारी कथा, स्वीट हार्ट, बागा बीच, गैंग ऑफ घोस्ट, कुशुमितर गप्पो जैसी बंगाली फिल्मों में काम किया।

पाओली दाम ने बोल्ड सीन से मचा दिया था तहलका

उन्होंने बॉलीवुड में जब कदम रखा तो अपनी बोल्डनेस से हंगामा मचा दिया। जब उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म आई तो चारों ओर सिर्फ पाओल की ही चर्चा थी। वहीं पहली ही फिल्म में जबरदस्त सुर्खियां बटोरने के बावजूद भी पाओली को बॉलीवुड में सफलता नहीं मिल सकी।

फिल्म में पाओली ने अंग प्रदर्शन कर यह बता भी दिया था कि वे किसी भी हद तक जा सकती हैं और बोल्ड से बोल्ड रोल भी निभा सकती हैं। पाओली को लगा कि हेट स्टोरी के बाद ऑफर्स की झड़ी लग जाएगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

पाओली दाम इतनी डेयरिंग थीं कि इन्होंने आते ही जबरदस्त इंटीमेट सीन दे डाले। वहीं इस बोल्डनेस के जरिए इस एक्ट्रेस को पहचान तो मिल गई लेकिन बॉलीवुड में उनका करियर कुछ खास नहीं चल सका।

पाओली दाम एक्टर नहीं बनना चाहती थीं

पाउली ने कभी एक्टर बनने के बारे में नहीं सोचा था। लाइफ को लेकर पाओली का प्लान कुछ और ही था। वो केमिकल रिर्सचर या फिर पायलट बनना चाहती थीं। लेकिन अपने लक की वजह से वो फिल्मों में आ गईं।

पाओली दाम ने अर्जुन से की शादी

पाओली दाम ने 4 दिसंबर 2017 को गुवाहाटी के एक रेस्तरां के मालिक अर्जुन देब से शादी की थी। इस शादी में केवल उनके परिवार के सदस्य, कुछ रिश्तेदार और खास दोस्त ही मौजूद थे। दोनों शादी से पहले दो साल तक एक-दूसरे को डेट कर रहे थे।

पाउली और अर्जुन की मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड के जरिए 2014 में हुई थी। धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे के काफी करीब आ गए। तीन साल एक दूसरे को डेट क रने के बाद शादी का फैसला लिया।

पाओली दाम की हालत हनीमून के दौरान बिगड़ गई

यह कपल अपना हनीमून मनाने स्विट्जरलैंड की बर्फीली वादियों में पहुंचा था। रोमांस के लिए परफेक्ट यह डेस्टिनेशन दरअसल उनके लिए मुसीबत में तब्दील हो गया।

भारी स्नो फॉल के चलते दोनों की हालत खराब हो गई। दोनों स्की रिजॉर्ट में ठहरे थे। स्नो फॉल के चलते उनका कनेक्शन दुनिया से पूरी तरह से कट गया था। बर्फबारी की वजह से रेलवे ट्रैक तक के रास्ते भी बंद हो चुके थे। रिजॉर्ट में दोनों की हालत बहुत खराब हो गई थी। पाओली (Paoli Dam) की तबीयत बहुत बिगड़ गई थी।

आखिरकार दोनों को बड़ी मुश्किल से हेलीकॉप्टर की मदद लेकर रिजॉर्ट से बाहर निकाला गया। पाओली और उनके पति के साथ-साथ वहां फंसे दूसरे पर्यटकों को भी हेलीकॉप्टर की मदद से सुरक्षित जगह ले जाया गया था। इस हादसे से पाओली बुरी तरह डर गई थीं।

पाओली दाम बंगाली फिल्मों में कमा रही हैं नाम

बता दें कि हेट स्टोरी के अलावा पाओली (Paoli Dam) को किसी भी हिंदी से सफलता नहीं मिल पाई। इसके बाद उन्होंने बंगाली सिनेमा की तरफ की ही ध्यान देना शुरू कर दिया। फिलहाल अब वो बंगाली फिल्म इंडस्ट्री का एक बड़ा नाम हैं।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like