पलटन का टाइटिल ट्रैक रिलीज़, पुराना जादू बरकरार रखने में नाकायमाब रहे अनु मलिक

पलटन का टाइटिल ट्रैक रिलीज़, पुराना जादू बरकरार रखने में नाकायमाब रहे अनु मलिक, जेपी दत्ता का मतलब बॉलीवुड में आर्मी माना जाता है। इनकी बेहतरीन फिल्मों में बॉर्डर, एलओसी-कारगिल और अब आने वाली फिल्म पलटन है।

हलांकि इसके पहले इन्होंने एक और फिल्म बनाई थी रिफ्यूज़ी जिसके गाने तो अच्छे लगे लेकिन फिल्म पिट गई और उसके बाद जब जेपी दत्ता बॉर्डर लेकर आए तो उस फिल्म का कहना ही क्या। ज़बरदस्त हिट रही वो फिल्म।

अब बात करते हैं जेपी दत्ता की आने वाली फिल्म पलटन की। तो इस फिल्म का प्रोमो और टाइटिल सॉन्ग रिलीज़ हो चुका है। प्रोमो देख कर पता लगता है कि फिल्म काफी बड़े कैनवस पर बनाने की कोशिश की गई है और वहां टाइटिल सॉन्ग पलटन भी ऐसा ही एहसास कराता है। लेकिन इसमें जेपी दत्ता एक बार फिर चूके हैं। अब आप पूछेंगे कि आखिर चूके कहां। तो जनाब वैसे ही चूके हैं ये बॉर्डर बनाने के बाद एलओसी-कारगिल में चूके थे।

एलओसी कारगिल में भी जेपी दत्ता ने इतने कलाकार इकट्ठा कर लिए कि सबका स्टारडम हावी रहा फिल्म पर। स्टोरी कोई नहीं देख पाया। वहीं आपको याद होगा कि रितिक रोशन की फिल्म आई थी लक्ष्य। सिंगल हीरो पर थी फिल्म और हिट गई थी। ऐसा कुछ एलओसी कारगिल नहीं कर पाई। सबके हिस्से में थोड़ा थोड़ा हिस्सा आया था लिहाजा फिल्म भी थोड़ी ही चली।

हम बात कर रहे थे पलटन के टाइटिल ट्रैक की। तो साहब पलटन का टाइटिल ट्रैक उसी तरह बनाने की जेपी दत्ता साहब ने कोशिश की जैसे उन्होंने बॉर्डर में एक गाना किया था, संदेश आते हैं हमें तड़पाते हैं। कमोबेश वैसा ही कैनवस है लेकिन पलटन का टाइटिल ट्रैक उतना जादू पैदा नहीं कर पा रहा है। शायद इसमें इमोशन्स की कमी है। जैसा कि बॉर्डर फिल्म के गाने में था।

बॉर्डर और रिफ्यूजी के गाने हिट हुए क्योंकि अनु मलिक के साथ आदेश श्रीवास्तव थे। एलओसी कारगिल में सिर्फ अनु मलिक थे और पलटन में भी सिर्फ अनु मलिक हैं। आदेश श्रीवास्तव जी अब इस दुनिया में हैं नहीं। लगता है वो जादू जो बॉर्डर और रिफ्यूजी के गानों में था वो शायद इसमें नहीं होगा।

दूसरा जेपी दत्ता साहब ने सोनू सूद को फिल्म में क्यों लिया ये समझ नहीं आता। सोनू सूद कहीं से भी आर्मी परसन की तरह दिखते नहीं हैं और जेपी दत्ता साहब ने इन्हें किरदार भी महत्वपूर्ण दिया है।

याद कीजिए बॉर्डर फिल्म में चाहे वो सनी देओल हों, पुनीत इस्सर हों, अक्षय खन्ना जिनका रोल ही इस फिल्म बच्चा सिपाही टाइप का था या फिर सुदेश बेरी और सुनील शेट्टी, ये सब चेहरे से भी आर्मी परसन लगते थे। एलओसी कारगिल में भी यही चूक की थी जेपी दत्ता ने और अब फिर पलटन में भी कर दी। हां जैकी श्रॉफ का किरदार दमदार होगा। ये ट्रेलर देखकर लगता है।

हलांकि फिल्म का ट्रेलर कुछ दिन पहले जब रिलीज किया गया था लोगों ने इसे पसंद किया और रिलीज होने के 24 घंटे के अंदर ही इस ट्रेलर ने खूब धमाल मचाया था। रिलीज होने के कुछ ही देर में इस फिल्म को लगभग 21 लाख से ज्यादा लोग देख चुके थे। इस मल्टीस्टारर फिल्म के जरिए साल 1967 में हुई भारत-चीन युद्ध की कहानी को दिखाया जाएगा।

बता दें कि साल 1962 में भारत और चीन के बीच युद्ध हुआ था और इसके पांच साल बाद ही चीन ने दोबारा भारत पर हमला किया था। फिल्म के ट्रेलर के सामने आते ही कई लोग इसकी तुलना जेपी दत्ता द्वारा ही निर्देशित कई गई फिल्म बॉर्डर से करने लगा है और फिल्म के ट्रेलर को दर्शकों का जबरदस्त रिस्पॉन्स मिलने के बाद अब फिल्म के निर्माताओं ने पलटन का टाइटिल ट्रैक रिलीज कर दिया है।

इस फिल्म की खासियत यह है कि इसमें आपको एक से बढ़कर एक कलाकार नजर आने वाले है। इस फिल्म के जरिए काफी लम्बे समय के बाद जैकी श्रॉफ बड़े पर्दे पर नजर आएंगे। वहीं अर्जुन रामपाल, सोनू सूद, गुरमीत चौधरी, हर्षवर्धन राणे, सिद्धार्थ कपूर, लव सिन्हा, ईशा गुप्ता, सोनल चौहान और दीपिका कक्कड़ ने इस फिल्म में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है।

यह फिल्म 7 सितम्बर को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है और बॉक्स ऑफिस पर इसकी टक्कर प्रदीप सरकार द्वारा निर्देशित हेलीकॉप्टर ईला और साजिद अली द्वारा निर्देशित लैला मजनू से होगी।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like