देश छोड़ कर अमेरिका में बसने की तैयारी में थे ओम पुरी, जानिए क्यों

देश छोड़ कर अमेरिका में बसने की तैयारी में थे ओम पुरी, जानिए क्यों  , हिंदी सिनेमा के वेटरन एक्टर ओम पुरी के आकस्मिक निधन के बाद अब कुछ ऐसी कहानियां सामने आ रही हैं, जिनसे लगता है कि वो ये दुनिया छोड़कर जाने के लिए अभी तैयार नहीं थे, बल्कि उनके ज़हन में तो कहीं और जाने की तैयारियां चल रही थीं।

ओम पुरी के क़रीबियों के मुताबिक अपनी मौत से एक दिन पहले शाम को वो ईशान से मिलने नंदिता पुरी के घर भी गए थे, लेकिन ईशान मिला नहीं और सुबह उनकी मौत की ख़बर आ गई। कुछ रिपोर्ट्स ये भी कहती हैं कि ओम पुरी राजस्थान के झालावर क़स्बे में शिफ़्ट होना चाहते थे। वहां उन्होंने 2012 में एक दो मंजिला मकान भी ख़रीदा था और गृह प्रवेश भी कर लिया था। उनकी दोस्तों का कहना है कि ओम पुरी रिटायरमेंट के बाद यहीं बसने के मूड में थे और निधन से कुछ दिन पहले वहां जाने की प्लानिंग कर रहे थे।

ओम पुरी के निधन के बाद जिस हालत में उनका मृत शरीर मिला, उसकी वजह से पुलिस ने एक्सीडेंटल रिपोर्ट का मामला दर्ज़ किया है। उनके सिर में गड्ढा था, जिससे ख़ून रिस रहा था। हालांकि पुलिस फिलहाल उनकी मौत की वजह दिल का दौरा ही मानकर चल रही है।

शुक्रवार की सुबह जब दिल का दौरा पड़ने से ओम पुरी के निधन की ख़बर आई, तो उन्हें जानने वाले और चाहने वाले हक्के-बक्के रहे गए। किसी ने सोचा भी नहीं था, कि हिंदी सिनेमा का ये महान कलाकार ऐसे दुनिया को अलविदा कह देगा। वैसे ख़ुद ओम पुरी ने भी नहीं सोचा था कि वो इस तरह रुख़्सत होंगे। रिपोर्ट्स की मानें तो 66 साल के ओम पुरी ने कुछ और प्लानिंग की हुई थी।

उनके कुछ नज़दीक़ी सूत्रों का कहना है कि ओम पुरी अपना बेस शिफ़्ट करना चाहते थे। वो अपने बेटे ईशान का इलाज अमेरिका में करवाना चाहते थे, जिसके लिए वो वहां घर ख़रीदने के लिए लोगों से सलाह-मशविरा भी कर रहे थे। वैसे भी ओम पुरी ऐसे एक्टर थे, जो इंडियन सिनेमा के साथ इंटरनेशनल फ़िल्म इंडस्ट्री में भी काम करते रहे हैं। बेटे के इलाज के लिए वो देश छोड़ने को तैयार थे। लेकिन देश तो छूटा नहीं छूट गई ज़िंदगी की डोर।

 

 

You might also like