ओम पुरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन, 66 साल के थे ओम पुरी

ओम पुरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन, 66 साल के थे ओम पुरी , दिग्गज अभिनेता ओमपुरी का शुक्रवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वो 66 साल के थे। उनके आकस्मिक निधन से बॉलीवुड सदमे में है। पद्म श्री ओमपुरी ने ‘अर्ध्य सत्य’, ‘धारावी’ ‘मंडी’ जैसी सैकड़ों फ़िल्मों में सशक्त अभिनय किया है।

ओम पुरी का अचानक यूं चले जाना हिंदी सिनेमा का बड़ा नुक्सान है। बहुत कम एक्टर ऐसे हुए हैं जिन्होंने अपनी शक्ल सूरत के बजाय अपनी अभिनय क्षमता से पहचान बनायी, ओम पुरी उन सबके लिए एक मिसाल हैं!

ओम पुरी बॉलिवुड के उन चंद कलाकारों में से एक थे, जिन्होंने समानांतर सिनेमा से लेकर कमर्शल सिनेमा तक में कामयाबी हासिल की। उनकी मौत की खबर सुनकर उनके फैंस सकते में हैं। ओम पुरी ने फिल्म अर्धसत्य में अभिनय की नई ऊंचाइयों को छुआ था। उन्हें इस फिल्म के लिए राष्ट्रीय अवॉर्ड दिया गया था।

ओम पुरी का जन्म अंबाला के एक पंजाबी परिवार में हुआ था। 1993 में ओम पुरी ने नंदिता पुरी के साथ शादी की थी।

2013 में उनका तलाक हो गया था। उनके एक बेटे इशान हैं। ओम पुरी ने बॉलिवुड के अलावा ब्रिटेन और अमेरिका की भी फिल्मों में काम किया। ओम पुरी और नसीरुद्दीन शाह फिल्म ऐंड टेलिविजन इंस्टिट्यूट पुणे में एक साथ पढ़ाई कर चुके हैं।

पिछले साल रिलीज हुई फिल्म ‘द जंगल बुक’ में ओम पुरी ने बघीरा को अपनी दमदार आवाज दी थी जिसे काफी पसंद किया गया था। इसके अलावा पिछले साल ओम पुरी फिल्म ‘एक्टर इन लॉ’ में नजर आए थे। नबील कुरैशी निर्देशित उनकी ये उर्दू फिल्म 13 सितंबर को रिलीज हुई थी।

ओम पुरी ने एक चरित्र अभिनेता के अलावा निगेटिव किरदार भी निभाए। उनकी कॉमिक टाइमिंग गजब की थी। उन्होंने ‘जाने भी दो यारों’ जैसी डार्क कॉमिडी से लेकर आज के जमाने की हंसोड़ फिल्मों में काम किया। हाल ही में उन्होंने हॉलिवुड एनिमेशन फिल्म जंगल बुक में एक किरदार को अपनी आवाज भी दी थी।

उनकी आखिरी कमर्शल फिल्म घायल वन्स अगेन थी। उनकी मशहूर आर्ट फिल्मों में अर्ध सत्य, सद्गति, भवनी भवाई, मिर्च मसाला और धारावी आदि शामिल हैं। हेराफेरी, सिंह इज किंग, मेरे बाप पहले आप, बिल्लू जैसी फिल्मों में उन्होंने दर्शकों को खूब हंसाया।

ओम पुरी ने अपने फ़िल्मी सफर की शुरुआत मराठी नाटक पर आधारित फ़िल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की थी। वर्ष 1980 में रिलीज ‘आक्रोश’ ओम पुरी के सिने करियर की पहली हिट फ़िल्म साबित हुई। ओम पूरी ने अपनी हिंदी सिनेमा करियर में कई सफल फ़िल्मों में अपने बेहतरीन अभिनय का परिचय दिया है। एक बिना फ़िल्मी परिवार से होने के कारण उन्हें हिंदी सिनेमा में अपनी जगह बनाने के लिए काफी कड़ा संघर्ष करना पड़ा। उन्हें हिंदी सिनेमा में अपनी बेहतरीन अभिनय के चलते कई पुरुस्कारों से भी नवाजा गया है। अशोक पंडित ने ट्वीट कर बताया कि इस ख़बर से वो शॉक हैं।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like