मुन्ना माइकल, साधारण कहानी को बेहतरीन तरीके से किया पेश

मुन्ना माइकल, साधारण कहानी को बेहतरीन तरीके से किया पेश , डायरेक्टर शब्बीर खान की फिल्म मुन्ना माइकल आज रिलीज हो गई है। वैसे तो फिल्म की कहानी मुन्ना यानि टाइगर श्रॉफ की है। लेकिन इसकी शुरुआत माइकल यानि की रोनित रॉय से होती है जो कि एक बैक स्टेज डांसर हैं लेकिन बूढ़े होने की वजह से उसे शोज मे रिजेक्ट कर दिया जाता है।

फिर एक दिन कचरे के डिब्बे में माइकल को एक बच्चा यानि टाइगर मिलता है। जिसका नाम वो मुन्ना माइकल रखता है। मुन्ना भी पापा माइकल की तरह डांसर बनता है और डांसिंग स्ट्रगल के चलते ये मुन्ना मुंबई से दिल्ली शिफ्ट हो जाता है।

फिल्म का डायरैक्शन अच्छा है और एक साधारण कहानी को बड़े ही अच्छे से पेश किया है। सिनेमेटोग्राफी, कैमरा वर्क बढ़िया है लेकिन कहानी में कोई नयापन नहीं है। ना ही बीच में कोई सरप्राइज एलिमेंट है। फर्स्ट हाफ में कहानी काफी लंबी हो जाती है इंटरवल का कहीं ना कहीं इंतजार सा करना पड़ता है। फिल्म की एडिटिंग और शार्प की जा सकती थी।

फिल्म में हर किरदार ने परफॉर्मेंस अच्छी है। टाइगर के एक्शन अवतार से साथ उनका डांस देखने को मिला है। वहीं नवाज फिल्म में थोड़े अलग कैरेक्टर में दिखे हैं। निधि और बाकी को-स्टार्स का काम भी अच्छा है। फिल्म का म्यूजिक ठीक-ठाक है इसमें कहीं कोई नयापन नहीं है।

कहानी में गैंगस्टर महिन्दर फौजी (नवाजुद्दीन सद्दिकी) की एंट्री होती है जो कि डोली (निधि अग्रवाल) से प्यार करता है। डोली को डांस आता है इसलिए महिन्दर डांस सीखने के लिए मुन्ना से मिलता है लेकिन कहानी में ट्विस्ट आता है और अचानक डोली दिल्ली छोड़ देती है। तो डोली कहां जाती है? वो नवाज को मिलेगी या नहीं? मुन्ना बड़ा डांसर बन पाएगा? इसके लिए आपको थिएटर तक जाकर ही चल पाता है।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like