Gossipganj.com
Film & TV News

शिल्पा शिंदे ने कहा कि बॉलीवुड में रेप नहीं होता बल्कि सबकुछ सहमति से होता है

शिल्पा शिंदे ने बीते साल ‘भाबी जी घर पर हैं’ के निर्माता संजय कोहली पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। शिल्पा शिंदे से जब भारत में चल रहे #MeToo कैंपेन के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने इसे बकवास करार दिया। शिल्पा ने आगे कहा, ”हम सब जानते हैं कि पुरुष वर्ग किस तरह का होता है। वे सोचते हैं कि आप ग्लैमरस दिखें। यह सामान्य है और सभी जगह ऐसा ही है। कोई सामने से आ रहा है तो आदमी मना नहीं करता लेकिन आपको अपनी सीमा रेखा के बारे में सोचना चाहिए।”

शिल्पा ने ताजा इंटरव्यू में कहा, ”यह बकवास है। आपको उसी वक्त आवाज उठानी चाहिए। आपको उस मुद्दे पर उसी समय बोलना चाहिए। मुझे एक चीज का सबक मिला है- जब होता है, तभी बोलो, बाद में बोलने का कोई फायदा नहीं। यह व्यर्थ होता है। यदि बाद में आप कितनी भी आवाज उठाते रहो कोई नहीं सुनेगा। केवल विवाद होता है।” शिल्पा ने आगे कहा कि इंडस्ट्री में जो भी होता है वह सब म्युचुअल अंडरस्टैंडिंग से होता है। एक्ट्रेस ने कहा, ”महिलाएं अब बोल रही हैं लेकिन मैं इस वक्त भी यही कहूंगी कि इंडस्ट्री में रेप नहीं होता। जबरदस्ती नहीं होता। यदि आप उस चीज के लिए तैयार नहीं हो तो उसे छोड़ दें।”

शिल्पा ने कहा, ”एक बार एक लड़की सेट पर शॉर्ट कपड़े पहन कर आई थी। जब उससे मैंने पूछा कि तुमने ये क्यों पहना है? तो उसने कहा कि वह मीटिंग के लिए आई है। मैंने कहा कि तुम्हें पता है कि तुम एक टीवी शो के लिए आई हो और टीवी शो के लीड रोल के लिए किस तरह की कपड़ों को पहनने की जरुरत होती है। वह एक सिंपल लड़की थी। मैंने उससे कहा कि काम पाने के लिए इस तरह के कपड़े पहनने की जरुरत नहीं है। यदि आप के अंदर टैंलेट है तो आपको मिलेगा।”