मानसी दीक्षित जिसको सेक्स से इंकार करने पर मिली मौत

मानसी दीक्षित पिछले करीब छह महीनों से मुंबई के अंधेरी में रह रही थी। वह मॉडलिंग की दुनिया में काम तलाशती हुई एक बड़ी फिल्म स्टार बनने का सपना देख रही थी।

मॉडलिंग के असाइमेंट्स लेती थी, दिन भर मायानगरी में कई तरह के लोगों से मिलती थी और कोटा में अपने परिवार के साथ बराबर कॉंटैक्ट में बनी रहती थी। उसने अपने हाथ पर एक टैटू बनवाया था जिसमें मां लिखा था।

मानसी दीक्षित | सेक्स से मना करने पर कातिल ने ली जान

मानसी दीक्षित पार्टी में मिली थी अपने कातिल से

अपनी प्रतिभा को मांजने और संघर्ष करने के दौरान मानसी दीक्षित का कई किस्म की पार्टियों में जाना होता रहता था। ऐसी ही एक पार्टी में उसके किसी दोस्त ने उसे मुज़म्मिल के साथ इंट्रोड्यूस करवाया था।

हैदराबाद का रहने वाला 19 साल का लड़का मुज़म्मिल पहली ही मुलाकात में मानसी की तरफ आकर्षित हो गया था। दोनों के बीच कर्टसी के तौर पर बातचीत हुई और फिर दोनों सोशल मीडिया पर कनेक्ट हो गए और दोनों के पास एक दूसरे के फोन नंबर भी थे।

कातिल मुज़म्मिल उसे हासिल करने का ख्वाब देखने लगा

दोस्ती पनपने लगी थी लेकिन मानसी का अपना काम था और मुज़म्मिल हैदराबाद में रहता था इसलिए दोनों की मुलाकातें ज़्यादा नहीं हो पाती थीं। एक दिन मुज़म्मिल ने मुलाकात के लिए बातचीत की तो मानसी उस वक्त अपने घर कोटा जा रही थी और उसने लौटकर मिलने की बात कही।

मानसी के लौटकर आने के इंतज़ार में मुज़म्मिल कई तरह के ख्वाब देखने लगा था। अपने ही खयालों में गुम मुज़म्मिल को ऐसा लगा कि मानसी भी उसकी तरफ उतनी ही आकर्षित है, जितना वो उसकी तरफ।

मानसी दीक्षित ने मुज़म्मिल के फ्लैट पर की आखिरी मुलाकात

बीते 14 अक्टूबर को मानसी कोटा से मुंबई लौटी और उससे कुछ पहले ही मुज़म्मिल हैदराबाद से मुंबई आया था। दोनों ने फोन पर बातचीत की और मुलाकात फिक्स की। दोनों के बीच मुलाकात हुई और मुज़म्मिल के फ्लैट पर मानसी पहुंची।

मुज़म्मिल ने कहा था कि इस फ्लैट में वह अपनी मां के साथ रहता था, लेकिन उस वक्त वह फ्लैट में अकेला था। मानसी ने कुछ पूछताछ के बाद एहतियात बरतते हुए उसके फ्लैट में कुछ देर बातचीत की।

मानसी दीक्षित के साथ सेक्स करना चाहता था मुज़म्मिल

कॉफी वगैरह होने के बाद मानसी ने वहां से जाने की बात की तो मुज़म्मिल ने उसे रोका। मुज़म्मिल उससे कुछ बातें करना चाहता था लेकिन मानसी को समझ नहीं आ रहा था कि वह इस तरह अकेले में क्या बात करे।

वह ज़्यादातर चुप ही थी क्योंकि कम्फर्टेबल महसूस नहीं कर रही थी। तभी, मुज़म्मिल ने कहा कि हम दोनों अकेले हैं यहां और अभी मां को आने में देर है। तुम चाहो तो हमारे बीच काफी कुछ हो सकता है।

इतना सुनते ही मानसी ने नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए वहां से जाने का रुख किया तो मुज़म्मिल ने उसे रोकने की कोशिश की और सेक्स के लिए फिर पेशकश की। मानसी उसका हाथ झटककर वहां से जाने लगी

मानसी दीक्षित के इंकार पर भड़क गया मुज़म्मिल

मुज़म्मिल ने कमरे में रखा एक स्टूल उठाकर मानसी के सिर पर ज़ोर से दे मारा। मानसी इस हमले के बाद लड़खड़ाकर गिरी तो उसका सिर से फर्श से टकराया। मुज़म्मिल का गुस्सा अगले ही पल काफूर हो गया और अब उसे डर लगा कि मानसी कहीं मर तो नहीं गई।

उसने मानसी को होश में लाने की कोशिश की तो कुछ पलों के लिए वह होश में आई भी। मगर तभी मुज़म्मिल की मां का मैसेज आया कि वह कुछ देर में घर पहुंचने वाली है। मुज़म्मिल को कुछ समझ में नहीं आया कि वह क्या करे। मां ने देख लिया तो।।

मानसी दीक्षित की लाश सूटकेस में भर दी

मां के डर से उसने मानसी का गला घोंटकर उसकी रही सही जान भी ले ली। फिर जल्दबाज़ी में मानसी की लाश को एक बड़े से सूटकेस में बंद किया। मुज़म्मिल बेहद घबराया हुआ था, इधर उधर भागते हुए उसने एक कैब बुक की।

मानसी की लाश रखे सूटकेस को लेकर मुज़म्मिल कैब में बैठा और एयरपोर्ट जाने को कहा। फिर मलाड के एक सुनसान इलाके में उसने कैब रुकवाई और दो मिनट में आने की बात कही। कैब से कुछ दूर जाकर मुज़म्मिल ने वह सूटकेस सड़क से दूर झाड़ियों में फेंका और एक ऑटो को रुकवाकर उसमें बैठकर भाग गया।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like