30 मिनट के शो के लिए हमें क्या क्या नहीं करना पड़ता, अदिति का खुलासा

30 मिनट के शो के लिए हमें क्या क्या नहीं करना पड़ता, अदिति का खुलासा , टीवी की जानी मानी अदाकारा अदिति गुप्ता इन दिनों स्टार प्लस के मशहूर धारावाहिक इश्कबाज़ में रागिनी की भूमिका निभा रही हैं। टेलीविजन अभिनेत्री अदिति गुप्ता का कहना है कि टेलीविजन में होने का मतलब हमेशा संघर्ष करते रहना। अदिति ने एक बयान में कहा, “टेलीविजन जगत में होने का मतलब लगातार संघर्ष करते रहना है। अपना सर्वश्रेष्ठ देना और प्रत्येक दिन सीखते रहना और अपनी इच्छानुसार किरदार पाना, ये सब चुनौतीपूर्ण है।

‘इश्कबाज’ के बारे में उन्होंने कहा, “मेरा किरदार वास्तव में पागलपन से भरा हुआ है। लेकिन इसको करते हुए जब आपको यह पता चलता है कि आपको इसे वास्तविक जीवन में किरदार से जोड़ना नहीं है, तब आप इसका आनंद उठाते हैं।” बता दें रागिनी कई टीवी धारावाहिकों में नजर आ चुकी हैं। इस लिस्ट में संजोग से बनी संगिनी, हिटलर दीदी, कुबूल है और परदेश में है मेरा दिल जैसे धारावाहिकों के नाम है।

उन्होंने कहा, “ज्यादातर लोग सोचते हैं कि 30 मिनट के शो के लिए, हमें ज्यादा शूट करने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन हम वजनी कपड़ों और मेकअप के साथ 12 घंटे शूट करते हैं। शुरुआत में मैं इसे नहीं करती थी, लेकिन समय के साथ मैंने इसे समझना शुरू किया और तब से मैंने अपने संघर्ष का आनंद उठाना शुरू कर दिया।”

‘किस देश मैं है मेरा दिल’ से अपने करियर की शुरुआत करने वाली टेलीविजन अभिनेत्री ने कहा, “मैंने महसूस किया कि बिना संघर्ष के मैं अपनी उपलब्धियों का आनंद नहीं उठा पाऊंगी। अब, मैं अपने जीवन की आसान चीजों का आनंद नहीं उठाती। मैं थोड़ी चुनौतिपूर्ण चीजों को पसंद करती हूं।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like