हॉलीवुड एक्‍ट्रेस एश्‍ले जड सिनेमाई संसार में जितनी पॉपुलर हैं, उतनी ही वह अपने मानव कल्‍याण से जुड़े कामकाज के लिए भी जानी जाती हैं। एश्‍ले ने बताया कि 1998 में भी उनके साथ फिर से रेप किया गया। उन्होंने इसे एक चमत्कार ही बताया कि वह मानव तस्करी की श‍िकार नहीं हुईं। अपने छोटे, लेकिन दमदार भाषण में एश्‍ले ने कहा कि जिंदगी हारकर बैठने का नहीं, बल्‍कि‍ साथ मिलकर लड़ने का नाम है। उन्‍होंने कहा, ‘दुनियाभर में महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनाए गए नियमों में कुछ ना कुछ खामियां हैं। लेकिन अगर एक सर्वाइवर के तौर पर महिलाएं एकजुट हो जाएं तो बदलाव लाया जा सकता है।’

इसे भी पढ़िए:   केविन स्पेसी को चाहिए सेक्शुअल लत से आजादी, कई आरोपों से हैं घिरे

बतौर एक्‍टर एश्‍ले Star Trek: The Next Generation के दो एपिसोड्स में नजर आ चुकी हैं। इसके अलावा ‘रूबी इन पैराडाइज’, ‘नॉर्मा जीन एंड मैरि‍लीन’, ‘किस द गर्ल्‍स’, ‘व्‍हेयर द हार्ट इज’ और ‘हाई क्राइम्‍स’ जैसे फिल्‍मों में नजर आ चुकी हैं। उन्होंने बताया कि जब वह 7 साल की थीं, तब उनका शोषण किया गया था। यही नहीं, जब वह 14 साल की थीं, तब उनका रेप भी हुआ।

इसे भी पढ़िए:   सेक्स कैलकुलेटर के मुताबिक ही सेक्स करती हैं क्लो कर्दशियां, जिससे हॉटनेस रहे बरकरार

एश्‍ले जड ने यह भी बताया कि हॉलीवुड में बहुत लिंगभेद है। उन्होंने कहा, ‘अगर भेदभाव नहीं होता तो उनकी जिंदगीभर की कमाई मौजूदा कमाई से कम से कम 40 फीसदी अधिक होती। इंडस्ट्री में लिंगभेद नहीं होना चाहिए और समानता का अधिकार मिलना चाहिए।’

एश्‍ले जड मानव कल्‍याण कार्यों में एड्स से संबंधित कामकाज को प्रमुखता देती हैं। 2011 में उन्‍होंने इंटरनेशनल सेंटर फॉर रिसर्च ऑन वुमन के लीडरश‍िप काउंसिल को जॉइन किया। एश्‍ले का जन्‍म कैलिफोर्निया में हुआ। वह मशहूर संगीतकार नाओमी जड की बेटी हैं। उनके पिता सिंगर, कम्‍पोजर और मोटिवेशनल स्‍पीकर थे।

इसे भी पढ़िए:   अ फैमिली मैन, हॉलीवुड की इस फिल्म में नज़र आएंगे अनुपम खेर, ट्रेलर आउट

उन्होंने आगे कहा कि वह अपने देश अमेरिका से बहुत प्यार करती हैं। अमेरिका को महिलाओं और लड़कियों को समानता का अधिकार देने के लिए काफी काम करना होगा। उन्होंने बताया कि अमेरकिा में बहुत-सी लड़कियां मानव तस्करी का शिकार होती हैं और उस समय उनकी उम्र सिर्फ 12 से 14 साल होती है।

LEAVE A REPLY

10 + 20 =