गुलफाम ख़ान अगर ऐक्ट्रेस ना होतीं तो वो ऐसा काम करतीं कि दुनिया सोचती

गुलफाम ख़ान अगर ऐक्ट्रेस ना होतीं तो वो ऐसा काम करतीं कि दुनिया सोचती , गुलफाम ख़ान को छोटे पर्दे पर घर घर में पहचाना जाता है। उनके दो सीरियल्स पहला नामकरण और दूसरा ख़्वाबों की ज़मीन पर, ये दोनों ही सुपरहिट सीरियल्स हैं। गुलफाम ख़ान का कहना है कि अगर वो कलाकार ना होती तो वो शायद पेंटर होतीं।

गुलफाम ख़ान को पढ़ना और पेंटिंग करना हमेशा से अच्छा लगता है। उन्हें पुरानी चीजों को रिसाइकिल करके उन्हें आर्ट फॉर्म में लाना भी काफी पसंद है। वो कहती हैं कि अगर वो एक्टर ना होती तो वो अपना करियर इसी फील्ड में बनाती।

वो कहती हैं कि जब वो पांचवी क्लास में पढ़ती थीं तब से उन्हें किताबों की लत लग गई और इसके पीछे उनके टीचर का हाथ है जिन्होंने उन्हें पढ़ने के लिए प्रोत्हासित किया।

You might also like