गुजरात की महिला कॉप्स नजर आएंगी बड़े पर्दे पर

हिंदी मूवीज में कॉप्स यूनिवर्स हमेशा से ही पुरुषों पर हावी रहा है। लेकिन अब इस समय में महिला रुपी नई ताकत, थ्रिल के लिए तैयार है, जो इस विषय को लेकर यथा उचित है।

महिला वीरता की सबसे बड़ी कहानियों में से एक, पूर्ण रूप से बड़े पर्दे पर अपना प्रभाव डालने के लिए तैयार है। वर्ष 2019 की बात है, जब गुजरात में एंटी-टेररिज्म स्क्वाड (एटीएस) की एक महिला टीम ने राज्य के सबसे खूंखार अपराधियों में से एक को पकड़ा। यह एटीएस द्वारा किए गए सबसे खतरनाक मिशंस में से एक था। फिल्म संतोक ओडेदरा, नित्मिका गोहिल, अरुणा गमेती और शकुंतला मल द्वारा किए जाने वाले ऑपरेशन का नेतृत्व करती है। ये चारों महिलाएं अलग-अलग पृष्ठभूमि से हैं, जिन्होंने अपना सर्वस्व जोखिम में डालकर एक डकैत को सफलतापूर्वक पकड़ा।

गुजरात के एंटी-टेररिज्म स्क्वाड के डीआईजी हिमांशु शुक्ला ऐसे शख्स थे, जिन्होंने इन चारों महिलाओं को मिशन की कमान सौंपी थी। वे कहते हैं, “खूंखार अपराधी को पकड़ने में महिला टीम की सफलता सभी को यही बताती है कि पुलिसिंग में महिलाओं के साथ भेदभाव निराधार पुरुषवाद है। यह एक बहुत ही खतरनाक ऑपरेशन था और मुझे इसमें सफल होने वाली महिला टीम पर गर्व है। मुझे खुशी है कि इस बहादुर प्रयास को अब बड़े पर्दे पर दिखाया जाएगा।”

इस ऐतिहासिक ऑपरेशन में चारों महिलाओं की सहायता करने वाले पुलिस इंस्पेक्टर जिग्नेश अग्रवाल थे, जिनके ग्राउंड इंटेलिजेंस में एक्सपर्टाइज ने टीम का मार्गदर्शन किया।

चारों महिला नायिकाओं के लिए कास्टिंग अभी प्रगति पर है। फिल्म की शूटिंग वर्ष 2021 के मध्य में शुरू की जाएगी।

डायरेक्टर आशीष आर मोहन कहते हैं, “इन बहादुर महिलाओं की इस प्रेरक सच्ची कहानी को बड़े पर्दे पर लाना वास्तव में मेरे लिए बेहद गर्व की बात है।”

इस अविश्वसनीय सच्ची कहानी पर आधारित यह एक्शन-थ्रिलर, संजय चौहान (पान सिंह तोमर) द्वारा लिखा जा रहा है और आशीष आर मोहन द्वारा डायरेक्ट किया जा रहा है।

फिल्म को वाकाओ फिल्म्स (विपुल डी. शाह, अश्विन वर्दे और राजेश बहल) द्वारा प्रोड्यूस किया जा रहा है।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें Twitter पर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like