ग्रेसी सिंह ने लिया बॉलीवुड से सन्यास, सन्यासन बन कर दे रही हैं भक्तों को आशीर्वाद

ग्रेसी सिंह जिन्होंने अपनी पहली ही फिल्म से बॉलीवुड में धमाल मचा दिया था। लोग उनके दीवाने थे लेकिन अचानक कुछ फिल्में करने के बाद ग्रेसी सिंह इंडस्ट्री से गायब ही हो गईं। इक्का दुक्का सीरियल्स में भी वो नज़र आईं लेकिन उसके बाद उनका अता पता नहीं लगा। अब जाकर हमारे हाथ उनके बारे में एक ऐसी खबर लगी है जिसे सुनकर उनके फैन्स चौंक जाएंगे।

जी हां ग्रेसी सिंह ने सन्यास ले लिया है और अब वो लोगों को आध्यात्म की शिक्षा दे रही हैं। दूर दूर से लोग उनके पास आशीर्वाद लेने आते हैं। वैसे तो फिल्मों में काम करने वाला हर कलाकार शोहरत और दौलत पर फोकस करता है लेकिन चमक-दमक भरी दुनिया से होते हुए ये अदाकारा आध्यात्म के रास्ते पर पहुंच गई। 2001 में भारतीय सिनेमा इतिहास की एपिक मानी जाने वाली फिल्म ‘लगान’ की हीरोइन गौरी सबको याद है। आमिर खान के अपोजिट ग्रेसी सिंह ने इस रोल को किया था। इस एक रोल ने ग्रेसी सिंह को वो संतुष्टि दी जो इस दुनिया में कुछ ही लोगों को अपने काम से नसीब होती है। वर्तमान में वह फिल्मों और धारावाहिकों से दूर आध्यात्म के रास्ते पर चल पड़ी हैं। उन्होंने शादी नहीं की है और आगे करेंगी या नहीं, इस बारे में कोई प्लान नहीं है। ब्रह्मकुमारी संस्था से जुड़ी ग्रेसी सिंह से अब लोग उनका आशीर्वाद लेने आते हैं।

ग्रेसी सिंह ने टीवी धारावाहिक 1997-2002 तक चले टीवी धारावाहिक अमानत से मनोरंजन जगत में कदम रखा था। उनके करियर की बड़ी फिल्मों में लगान और मुन्ना भाई एमबीबीएस रहीं हैं। कहा जाता है कि फिल्में न मिलने पर उन्होंने बाद में बी ग्रेड की फिल्में भी कीं। बकौल ग्रेसी सिंह उन्होंने एक्टिंग के बारे में कभी सोचा नहीं था, उन्हें नृत्य में दिलचस्पी थी और वही सीखती थीं। इस पुराने इंटरव्यू में ग्रेसी सिंह ने अपने बारे में काफी कुछ बयां किया है।

एक टीवी इंटरव्यू में ग्रेसी सिंह ने कहा था, ”’मैं चाहती थी कि मैं फिल्म करूंगी तो कुछ स्पेशल हो, चाहे वो एक ही फिल्म हो, इंडियन सिनेमा की हिस्ट्री में भी याद रहे।” उन्होंने स्वीकार किया था कि फिल्म लगान ने उनकी यह इच्छा पूरी कर दी। इंटरव्यू में ग्रेसी सिंह ने यह भी बताया था कि जब लगान की शूटिंग के वक्त वह लोगों से कम बात करने लगी थी, ऐसा काम पर ज्यादा ध्यान देने के कारण हुआ था लेकिन उनके साथी उन्हें घमंडी समझने लगे थे। ग्रेसी के मुताबिक उन्हें इतनी बड़ी और ऐसी फिल्म अचानक मिल गई थी जिसकी वह इच्छा रखती थी इसलिए फिल्म में 100 फीसदी देने के लिए ज्यादा डर गई थीं और अपने काम पर ज्यादा ध्यान देने के कारण लोगों से बात करना भूल गई थीं।

You might also like