गेम ऑफ अयोध्या फिल्म के विरोध में उतरा संत समाज, आंदोलन की धमकी

गेम ऑफ अयोध्या फिल्म के विरोध में उतरा संत समाज, आंदोलन की धमकी , बाबरी मस्‍ज‍िद व‍िध्‍वंस की कहानी बयां करती ये गेम ऑफ अयोध्या फिल्म 8 दिसंबर को रिलीज़ होने वाली है लेकिन उससे पहले ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और संत समाज विरोध में उतर आया है। संतो ने कहा है कि इस विवादास्पद गेम ऑफ अयोध्या फिल्म को रिलीज होने से रोका जाए नहीं तो वे सड़कों पर आने को मजबूर होंगे। संतों ने पूरे देश में आंदोलन की धमकी दी है।

वीएचपी के प्रांतीय मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने कहा कि फिल्म निर्माता माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। शर्मा ने कहा, ‘शांतिपूर्ण माहौल को बिगाड़ने में ऐसे लोगों की सक्रियता जगजाहिर है। पद्मावती को लेकर संपूर्ण देश में आंदोलन हो रहा है ,और अब अयोध्या को लेकर विवाद खड़ा किया जा रहा है ।फिल्म सेंसर बोर्ड इस पर तत्काल कार्रवाई करे और फिल्म पर रोक लगाई जाए।’

आरोप है कि फिल्म में हिंदुओं को छल से भगवान राम की मूर्ति स्थापित करते दिखाया गया है। फिल्म का विरोध करते हुए विश्व हिंदू परिषद ने इसे सस्ती लोकप्रियता बताया है। श्री राम वल्लभा कुंज के अधिकारी राज कुमार दास ने कहा कि यह छल और प्रपंच पर आधारित फिल्म बनाई गई है। सेंसर बोर्ड फिल्म पर तत्काल रोक लगाए। अगर वह ऐसा नहीं करता है तो संत समाज सड़कों पर आने को मजबूर होगा। पूरे देश में आंदोलन होगा क्योंकि पूरी फिल्म तथ्य से परे है।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमेंTwitterपर लेटेस्ट अपडेट के लिए फॉलो करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like