Gossipganj
Film & TV News

पोर्न स्टार ब्रिटिनी दे ला मोरा पादरी से शादी के बाद अब बन चुकी हैं धर्म प्रचारक

300 एडल्ट फिल्में कर चुकी हैं ब्रिटिनी दे ला मोरा

0 638

पोर्न स्टार ब्रिटिनी की ज़िंदगी में अब बहुत बड़ा बदलाव आ चुका है। कैलिफोर्निया की रहने वाली पूर्व पोर्न सुपरस्टार ने अब धर्म प्रचारक बनकर जिंदगी की नई पारी शुरू की है। ब्रिटिनी दे ला मोरा के पति सैन डियागो के एक चर्च में पादरी हैं। ब्रिटिनी की लाइफ में बड़ा बदलाव उस वक्त आया जब उनकी दादी उन्हें लॉस एंजलिस से लेकर सैन डियागो आईं। दादी ने ब्रिटिनी का उत्साह बढ़ाया। इसके बाद ब्रिटिनी ने चर्च जाना शुरू किया और साल 2012 में ब्रिटिनी ने पोर्न इंडस्ट्री को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। चर्च के पादरी रिचर्ड डी ला मोरा के धर्म प्रचार से वो काफी प्रभावित हुईं।

दोनों के बीच प्यार का सिलसिला भी शुरू हुआ और साल 2016 में दोनों ने शादी भी रचा ली। इन दोनों ने मिलकर किताबें भी लिखी हैं जो इसी साल प्रकाशित होने वाली हैं। ब्रिटिनी के धर्म प्रचारक बनने के फैसले से उनके पति काफी खुश हैं। उनका कहना है कि यह उनके दिल के बेहद करीब है। रिचर्ड ने कहा कि उन्हें ऐसा लग रहा है कि उनकी पत्नी कहीं खो गई थीं जो अब वापस मिल गई हैं।

लेकिन अब से छह साल पहले ब्रिटिनी की जिंदगी कुछ और थी। एक समय ऐसा भी था जब ब्रिटिनी की पहचान एक पोर्न स्टार के रुप में थी और वो हर दिन बेशुमार दौलत कमाती थीं। महज 16 साल की उम्र में मेक्सिको जाते वक्त ब्रिटिनी ने सबसे पहले अपने दोस्त से शारीरिक संबंध बनाए थे। इसके बाद ब्रिटिनी नाइट क्लबों और पार्टियों में ज्यादा वक्त गुजारने लगीं। जल्द ही पोर्न इंडस्ट्री से जुड़े दो निर्माताओं ने उन्हें फिल्में ऑफर की। पोर्न स्टार ब्रिटिनी को हॉस्टेस्ट पोर्न स्टार का खिताब भी मिला। ब्रिटिनी ने इसके बाद कई सारी पोर्न फिल्मों में काम किया।

पोर्न स्टार ब्रिटिनी ने खुद बतलाया है कि पोर्न इंडस्ट्री में जाने के बाद शुरुआती दिनों के दौरान वो हर रोज काम करती थीं और 20 लाख रुपये महीना भी कमा लेती थीं। 31 साल की ब्रिटिनी ने करीब 300 एडल्ट फिल्मों में काम किया है। ब्रिटिनी के पास मर्सीडीज से लेकर ऐशो-आराम की सभी चीजें थीं। इस इंडस्ट्री में ब्रिटिनी जीना प्रेजेले के नाम से विख्यात रही हैं।

पोर्न स्टार ब्रिटिनी को खतरनाक ड्रग्स की बुरी लत भी लग गई थी। ड्रग्स के लिए वो हर रोज हजारों डॉलर खर्च कर देती थीं। ब्रिटिनी को सबसे पहले कोकीन की लत लगी और फिर वो हेरोइन लेने लगीं। नशे ने ब्रिटिनी के दिमाग पर बुरा असर डाला। ड्रग्स के प्रभाव की वजह से कई बार उनके दिमाग में आत्महत्या का ख्याल भी आया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...