पद्मावत | 300 कट्स के बाद भी संजय लीला भंसाली की राह आसान नहीं!

0
210
पद्मावत

पद्मावत | 300 कट्स के बाद भी संजय लीला भंसाली की राह आसान नहीं! अरसे से विवादों में घिरी फिल्म ‘पद्मावत’ एक बार फिर से चर्चा में आ गई है। इस फिल्म के 25 जनवरी को रिलीज होने की खबरें आ रही हैं। हालांकि, अभी आधिकारिक रूप से रिलीज की तारीख की कोई घोषणा नहीं की गई है। फिल्म को हाल ही में कुछ बदलावों के साथ सेंसर बोर्ड से क्लीन चिट मिली है लेकिन इसकी राह में रोड़े अब भी कम नहीं हैं।

सेंसर बोर्ड ने फिल्म ‘पद्मावती’ में 5 बदलाव के सुझाव देकर, इसे हरी झंडी दे दी थी। इन खबरों के बीच निर्माता ने विवादित फिल्म ‘पद्मावत’ में 300 कट लगाए हैं। यहीं नहीं फिल्म में आपको ये भी पता नहीं चलेगा की ‘पद्मावती’ कहां की रानी थीं और अलाउद्दीन खिलजी कहां के बादशाह थे, यानी किरदारों को समझना मुश्किल होगा। खबर है की फिल्‍म से दिल्ली, मेवाड़ और चित्तौड़गढ़ से जुड़े तथ्यों को काट दिया गया है।

इसे भी पढ़िए:   कॉमन लोगों को बिग बॉस में जाने के लिए नहीं मिलेगी फीस, जानिए क्यों

रिव्यू कमिटी के सहयोग से सेंसर बोर्ड की ओर से 5 संशोधनों के बाद फिल्म को U/A सर्टिफिकेट तो मिला है लेकिन फिल्म का टाइटल ‘पद्मावत’ किए जाने के अलावा इसे काल्पनिक दिखाने के लिए खबर है की 300 कट्स लगाए गए हैं। हालांकि, निर्माता की ओर से इसपर औपचारिक तौर पर बयान नहीं आया है। लेकिन निर्माता कंपनी से जुड़े सूत्र इस खबर को सही बता रहे हैं। बता दें कि, सीबीएफसी ने दावा किया था की फिल्म में किसी भी कट की सिफारिश नहीं की गई थी। केवल पांच संशोधन करने को कहा गया था। पर इन संशोधनों को कई कट्स से गुजरना पड़ा है।

इसे भी पढ़िए:   नामकरण में अवनी को छोड़ना होगा घर, अली के साथ रिश्ते पर उठा सवाल!

फिल्म का अब भी विरोध किया जा रहा है। वहीं, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने साफ तौर पर कहा है कि फिल्म ‘पद्मावत’ को राज्य में रिलीज नहीं किया जाएगा। फिल्म की रिलीज डेट और राजस्थान में बैन को लेकर फिल्म सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही है। करणी सेना के विरोध के बारे में पूछने पर कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसले में कहा था कि एक बार जब सेंसर बोर्ड प्रमाणपत्र दे देता है तो राज्य सरकार की यह जिम्मेदारी है कि कानून व्यवस्था की स्थिति को सामान्य बनाए ताकि फिल्म के रिलीज में कोई बाधा पैदा न हो। यह उनकी संवैधानिक जिम्मेदारी है।

इसे भी पढ़िए:   गौरी ख़ान को दिया पांच साल पहले का वादा तोड़ने जा रहे हैं शाहरुख ख़ान

उन्होंने कहा कि साढ़े तीन साल में यह बात स्पष्ट हो गई है कि हाशिए वाली ताकतों और मुख्यधारा की ताकतों में कोई फर्क नहीं है। हाशिए वाली ताकतें आज राजनीति की मुख्यधारा में आ गई हैं। वहीं करणी सेना ने भी मोर्चा खोल दिया है कि फिल्म को रिलीज नहीं होने दिया जाएगा। ‘पद्मावत’ के साथ अक्षय कुमार की ‘पैडमैन’ भी 25 जनवरी को सिनेमाघरों में रिलीज होगी। वहीं, 26 जनवरी को रिलीज के लिए तैयार सिद्धार्थ मल्होत्रा और मनोज वाजपेयी की ‘अय्यारी’ अब 9 फरवरी को आएगी।

LEAVE A REPLY

fourteen − 12 =