Gossipganj.com
Film & TV News

स्मिता पाटिल को जब ओम पुरी ने मार दिया था थप्पड़

स्मिता पाटिल को जब ओम पुरी ने मार दिया था थप्पड़ , ओम पुरी ने अपना करियर मराठी फिल्म घासीराम कोतवाल (1972) से शुरू किया। इसके बाद वो साल 1980 की फिल्म ‘आक्रोश’ में नजर आए। पहलान निहलानी की इस फिल्म में स्मिता पाटिल, ओम पुरी और नसीरुद्दीन शाह मुख्य भूमिका में था। इस फिल्म में ओम पुरी ने स्मिता पाटिल को ज़ोर से थप्पड़ मार दिया था।

ओम पुरी को भी डर था कि कहीं स्मिता थप्पड़ को चोट न लग जाए। मगर निहलानी की बात सुनकर स्मिता ने ओम से कहा कि वो थप्पड़ मारने में संकोच न करें। बल्कि इस तरह मारें कि परदे पर असली जैसा लगे। शूटिंग शुरू हुई तो ओम पुरी ने थप्पड़ जड़ दिया। निहलानी की ओर से शॉट भी ओके हो गया। इस सीन के बाद स्मिता पाटिल बगैर कुछ बोले चुपचाप वहां से चली गईं।

इसका अफसोस ओम पुरी को ताउम्र रहा। दरअसल एक सीन के दौरान ओम को स्मिता पाटिल के गाल पर थप्पड़ मारना था। रिहर्सल के दौरान ओम पुरी, स्मिता पाटिल के गाल पर ठीक से थप्पड़ नहीं मार रहे थे। निर्देशक गोविंद निहलानी इससे खुश नहीं थे। उन्होंने ओम से कहा, ‘कैमरे में यह साफ दिख रहा है कि तुम ठीक से थप्पड़ नहीं मार रहे हो। ऐसे थप्पड़ मारो ताकि वो असली लगे।’

हालांकि ओम पुरी को इस बात का अहसास हो गया था कि स्मिता को थप्पड़ से चोट लग गई है। वो उनके पीछे-पीछे उनके मेकअप रूम तक गए मगर स्मिता कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर चुकी थीं। जब तक स्मिता कमरे के बाहर नहीं आई तब तक ओम पुरी उनके बाहर निकलने का इंतजार करते रहे।

कुछ समय बाद जब स्मिता कमरे से बाहर आईं तो ओम पुरी ने उनसे माफी मांगी। इस पर स्मिता ने कहा, ‘छोड़ो ना यार। कान पर लग गया था। बहुत तेज दर्द हो रहा था। इसलिए मैं एक गोली लेकर सो गई थी।’