ए आर रहमान की धुनों को सिर्फ वही बकवास कह सकती हैं, जानिए कौन हैं वो , , भले ही ए आर रहमान की धुनों पर दुनिया झूमती हो और हर किसी को उनके गाने परफेक्ट लगते हों लेकिन कोई है जो रहमान के गानों में भी ‘नुक्ताचीनी’ करती हैं। वो रहमान की सबसे बड़ी क्रिटिक हैं।

रहमान खुद टीवी नहीं देखते लेकिन वह कहते हैं कि रियलिटी शो, कई टैलेंट्स को मौका देता है क्योंकि टीवी की पहुंच काफी ज़्यादा है। रहमान ने श्रीदेवी के साथ फिल्म मॉम में काम करने के अपने अनुभव के बारे में बताया कि उन्हें श्रीदेवी के साथ काम कर अच्छा लगता है। रहमान ने यह भी कहा कि उनकी ज़िन्दगी में उनकी मां से अहम हस्ती कोई नहीं हैं और वह अपना हर गाना उन्हें ही समर्पित करते हैं।

इसे भी पढ़िए:   अमेरिकी दूतावास ने किया बिग बी का सम्मान

रहमान के गानों की कमियां निकालने वाली कोई और नहीं बल्कि उनकी माँ हैं। सचिन पर बनी फिल्म में संगीत दे रहे रहमान हाल ही में जी टीवी के शो लिटिल चैम्प्स में श्रीदेवी की फिल्म मॉम के प्रोमोशन के लिए आये थे। इस दौरान उन्होंने बताया कि उनकी मां उनके गानों की सबसे बड़ी क्रिटिक है। पूरी दुनिया को भले ही उनके हर गाने पसंद हों लेकिन उनकी मां गाना सुनते ही उन्हें गाने की कमी बता देती हैं।

इसे भी पढ़िए:   अर्थ 2 इस साल दिसंबर में हो सकती है रिलीज़, पाकिस्तानी फिल्म है अर्थ 2

रहमान बताते हैं कि उन्होंने अपनी मां को सबसे अधिक खुश तब देखा था जब वो फिल्म रोजा का गाना ‘दिल है छोटा सा छोटी सी आशा’ सुनती थीं। यह पूछे जाने पर कि वह महिला म्यूजिक निर्देशकों के करियर को इंडस्ट्री में किस तरह देखते हैं, इस पर रहमान कहते हैं कि उनके स्टूडियो में भी कई महिलायें काम करती हैं और वह मानते हैं कि स्त्री पुरुष दोनों को ही साथ मिल कर काम करना चाहिए।

इसे भी पढ़िए:   अभिनेता संजय दत्त के आंसू ही नहीं रूक रहे थे, वो बस रोये जा रहे थे, जानिए क्यों

LEAVE A REPLY

1 × 4 =