जो दिल आता है वैसे फैसले ले लेती हूं, मैं दूसरोंं की परवाह नहीं करती , अनुष्का शर्मा का कहना है कि वह दूसरों को ध्यान में रखकर अपना फैसला नहीं लेतीं। वह अपनी जिंदगी को अपने हिसाब से तय करती हैं। उन्हें जो ठीक लगता है, वही करती हैं। वह अपने फैसले खुद लेती हैं।

इसे भी पढ़िए:   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक को लेकर मुश्किल में हैं परेश रावल

अनुष्का ने बताया, ‘लोगों की सोच थी कि यदि मेरा अभिनय करियर अगर ठीक चल रहा है, तो मुझे दिशा भ्रमित होने की क्या जरूरत है। लेकिन मैंने इस बारे में नहीं सोचा। मैं एक तय फार्मेट में काम नहीं करना चाहती, इसीलिए मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि लोग मेरे फैसले के बारे में क्या प्रतिक्रिया देंगे।’

इसे भी पढ़िए:   विद्या बालन ब्रांड एंबेसडर थीं, फिर भी नहीं गई मेलबर्न, जानिए क्यों

अनुष्का शर्मा ने कम समय में दो फिल्मों का निर्माण कर लिया है। आपको बता दें कि पहली फिल्म एनएच 10 ने टिकिट खिड़की पर बेहतर प्रदर्शन किया था। इस बार फिल्म की कहानी एक भूतनी के ईर्द-गिर्द घूमती है।

इसे भी पढ़िए:   'साहिबा' हुआ रिलीज़, फिल्लौरी का नया गाना और क्या

फिल्म “फिल्लौरी” में अभिनय के साथ-साथ फिल्म का निर्माण कर रही हैं। अनुष्का कहती हैं, ‘मैंने जब 25 वर्ष की उम्र में अभिनय के साथ-साथ निर्माण क्षेत्र में उतरने की तैयारी की तो लोगों का कहना था कि मैं ऐसा फैसला क्यों ले रही हूं।’

Loading...
-->
loading...

LEAVE A REPLY

18 − four =