‘पलटन’ लेकर आ रहे हैं जे पी दत्ता, भारत-चीन युद्ध पर है फिल्म , युद्ध की पृष्ठभूमि पर फ़िल्में बनाने के लिए मशहूर डायरेक्टर जेपी दत्ता अब एक और वॉर फ़िल्म की तैयारी कर रहे हैं। फ़िल्म का शीर्षक ‘पलटन’ है, और ख़बरों के मुताबिक़ ये फ़िल्म 1962 में हुए भारत-चीन के युद्ध पर आधारित है।

ख़बर ये भी है कि ‘पलटन’ की शूटिंग सिक्किम और लद्दाख में की जानी है। अभिषेक बच्चन के साथ सूरज पंचोली और पुल्कित सम्राट के पलटन में शामिल होने की ख़बर भी है। हालांकि स्टार कास्ट की पुष्टि फ़िल्ममेकर की ओर से अभी नहीं की गई है। जेपी दत्ता की ये तीसरी वॉर फ़िल्म होगी। इससे पहले 2003 में जेपी दत्ता LOC- Kargil लेकर आए थे, जो 1999 में कारगिल में हुए ऑपरेशन विजय पर आधारित थी। 1971 में भारत-पाकिस्तान की लड़ाई पर जेपी दत्ता ने ‘बॉर्डर’ बनाई थी, जो 1997 में रिलीज़ हुई थी। ये हिंदी सिनेमा की क्लासिक वॉर फ़िल्मों में शामिल है।

इसे भी पढ़िए:   विद्या बालन ब्रांड एंबेसडर थीं, फिर भी नहीं गई मेलबर्न, जानिए क्यों

इसी साल रिलीज़ हुई ‘द ग़ाज़ी अटैक’ भारत और पाकिस्तान के बीच हुए नेवल वॉर पर बेस्ड है। अंडर वॉटर वॉर को दिखाने वाली ये भारतीय सिनेमा की पहली फ़िल्म है। दिलचस्प बात ये है कि ये फ़िल्म भी 1971 में भारत-पाकिस्तान लड़ाई के दौरान पाकिस्तानी पनडुब्बी पीएनएस ग़ाज़ी के रहस्मयी तरीक़े से डूब जाने की घटना पर आधारित है। तेलुगु और हिंदी में साथ-साथ बनी फ़िल्म में राणा डग्गूबाती, केके मेनन और अतुल कुलकर्णी ने मुख्य भूमिकाएं निभाईं।

इसे भी पढ़िए:   अक्षय कुमार और रितिक के परिवार ने एक साथ मिल कर किया इन्ज्वॉय

2004 में आई फरहान अख़्तर की ‘लक्ष्य’ बॉलीवुड की यादगार वॉर फ़िल्मों में शामिल है। फ़िल्म में रितिक रोशन और प्रीति ज़िंटा ने मुख्य किरदार निभाए। फ़िल्म की बैकग्राउंड 1999 के कारगिल वॉर पर आधारित थी, मगर इसकी कहानी काल्पनिक थी। रितिक ने सोल्जर का रोल निभाया तो प्रीति जर्नालिस्ट के किरदार में नज़र आईं।

1964 में आई चेतन आनंद की फ़िल्म ‘हक़ीक़त’ की कहानी 1962 में हुए भारत-चीन युद्ध के इर्द-गिर्द बुनी गई थी। फ़िल्म में धर्मेंद्र, बलराज साहनी और प्रिया राजवंश ने मुख्य किरदार निभाए थे। ‘हक़ीक़त’ हिंदी सिनेमा की क्लासिक वॉर फ़िल्मों की लिस्ट में शामिल है।

इसे भी पढ़िए:   बॉक्स ऑफ़िस पर ट्यूबलाइट जल ही नहीं पा रही, पहले दिन मामूली कलेक्शन

वैसे वॉर फ़िल्में बॉलीवुड फ़िल्ममेकर्स का पसंदीदा सब्जेक्ट रही हैं और अक्सर देशभक्ति के जज़्बे में डूबी ये फ़िल्में दर्शकों का मनोरंजन करती रही हैं। ईद पर रिलीज़ के लिए तैयार सलमान ख़ान की फ़िल्म ‘ट्यूबलाइट’ वैसे तो दो भाइयों के बिछड़ने और मिलने की कहानी है, मगर इसकी पृष्ठभूमि में 1962 की भारत-चीन की लड़ाई है। ‘ट्यूबलाइट’ हॉलीवुड फ़िल्म ‘लिटिल ब्वॉय’ से प्रेरित है।

Loading...
-->
loading...

LEAVE A REPLY

6 − three =