Gossipganj
Film & TV News

अद्वैत कुमार, जिनके मुताबिक वक्त के साथ चलना ही ज़िंदगी है

खास बातचीत

0 2,128

अद्वैत कुमार, जिनके मुताबिक वक्त के साथ चलना ही ज़िंदगी है। उम्मीदों का टूटना और उन्हें जोड़ना और जोड़ कर अपने सपने को हकीकत में बदलना। अद्वैत कुमार की ये आदत है। शायद इसीलिए वो इस मुकाम पर हैं। गॉसिपगंज के एडिटर मधुरेंद्र पाण्डे ने उनसे बात की।

मधुरेंद्र पाण्डे – आप काफी वक्त से मुंबई में हैं। लेकिन सफर आपका शुरु हुआ था अहमदाबाद से। कैसे अचानक ख्याल आया कि आप सिनेमा के लिए बने हैं।

अद्वैत कुमार – अहमदाबाद में मेरी स्कूलिंग हुई है। वहीं मैं बच्चन साहब की फिल्में देखता था और फिर शाहरूख खान की फिल्में देखीं। बस वहीं से क्लिक कर गया कि मुझे एक्टर बनना है। सफर की ओर पहला कदम शायद वही था।

मधुरेंद्र पाण्डे – अहमदाबाद से मुंबई आकर स्ट्रगल तो काफी मुश्किल रहा होगा।

अद्वैत कुमार – मैंने पहले कुछ गुजराती सीरियल्स में काम किया था। हालांकि मेरा फैमिली बैकग्राउंड फिल्मी नहीं है। मेरे पापा का ट्रांसपोर्ट का काम है और मैं उस बिज़नेस में भी पापा की हेल्प करता था। लेकिन फिर मुझे लगा कि जो सपना मैं देख रहा हूं, उस सपने को पूरा करने के लिए मुंबई ही सबसे बेहतर जगह है। खैर फिर साल 2003 में मुंबई पहुंच गया। एक फिल्म मेकर हैं नवीन जी उनको असिस्ट किया। साथ ही एक्टर बनने की कोशिश भी जारी रही लेकिन एक बात समझ में आ गई कि मुंबई बहुत ही प्रैक्टिल शहर है यहां कोई आपको आसानी से ब्रेक देने वाला नहीं है। मैंने फिल्म मेकिंग पर ध्यान दिया औक मैंने रीमिक्स वीडियो बनाने शुरु कर दिए। पहले खुद को अच्छी तरीके से मांजा और फिर इस फील्ड में खुद की जगह बनाई। ऐड शूट करता था। मेरा पहला वीडियो सात समंदर पार नाम से था।

मधुरेंद्र पाण्डे – वीडियो शूट करते करते फिल्म मेकिंग के बारे कब गंभीरता से सोचना शुरु किया।

अद्वैत कुमार – देखिए गंभीर था तभी फिल्म मेकिंग की बारीकियां सीख रहा था। साल 2007 में बतौर क्रिएटिव डायरेक्टर भी काम किया। फिर अपनी फिल्मों पर ध्यान देने लगा। मेरी एक फिल्म है डेंजरेस हुस्न, इस फिल्म में सनी लियोन के पति डेनियल वेबर डेब्यू कर रहे हैं। फिल्म लगभग पूरी हो चुकी है। इसी साल ये फिल्म रिलीज़ होनी है। इस फिल्म में डेनियल के अपोजिट ब्रूना अब्दुल्लाह हैं और सबसे खास बात कि इस फिल्म में सनी लियोन का एक आइटम सॉन्ग भी है।

मधुरेंद्र पाण्डे – इस फिल्म के बाद कोई और प्रोजेक्ट जिस पर आप काम कर रहे हों।

अद्वैत कुमार – मेरी एक और फिल्म है इश्क बेहद, इसमें मैंने हीरो का किरदार निभाया है। इस फिल्म में मृणाल जैन नेगेटिव किरदार में हैं। अमन वर्मा जी हैं और मेरे अपोजिट उड़िया फिल्म इंडस्ट्री की नामचीन कलाकार काव्या किरन हैं। इस फिल्म अरमान मलिक और नेहा कक्कड़ का गाना भी आपको सुनने को मिलेगा। फिल्म लगभग 90 फीसदी पूरी हो चुकी है और उम्मीद है कि हम इसे जल्द रिलीज़ करेंगे।

मधुरेंद्र पाण्डे – तो कौन सी फिल्म आपकी पहले आएगी, डेंजरेस इश्क या इश्क बेहद

अद्वैत कुमार – रिलीज़ तो दोनों फिल्में इसी साल हो जाएंगी लेकिन पहले इश्क बेहद रिलीज़ होगी।

मधुरेंद्र पाण्डे – फिल्मों के अलावा कोई ऐसा सपना जो अभी आप पूरा करना चाहते हों।

अद्वैत कुमार – हां डिजिटल मीडिया के लिए काम कर रहा हूं। नेत्रा बायोस्कोप के नाम से। अभी तो हम कवर सॉन्ग बनाते हैं। एक अजनबी हसीना से मुलाकात हो गई, इस गाने का कवर सॉन्ग बनाया है। इसके अलावा नेत्रा बायोस्कोप के लिए मदर्स डे पर भी एक शॉर्ट फिल्म बना रहा हूं। वेब सीरीज़ भी प्रोसेस में है। इसमें शार्ट फिल्म, टॉक शो, कवर सॉन्ग, वेब सीरीज सब कुछ रखना है।

मधुरेंद्र पाण्डे – अक्सर देखा जाता है कि जो फिल्मों या सीरियल का रूख करता है वो आगे वक्त नहीं देख पाता लेकिन आपसे मिल कर लगा कि आप वक्त को परख कर चलना पसंद करते हैं। नेत्रा बायोस्कोप के लिए शुभकामनाएं और आपसे बात करके काफी अच्छा लगा, धन्यवाद।

अद्वैत कुमार – मुझे भी, धन्यवाद।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...