मनीषा कोइराला की बेहतरीन अदाकारी देखनी हो तो देखें डियर माया

मनीषा कोइराला की बेहतरीन अदाकारी देखनी हो तो देखें डियर माया , बॉलीवुड की खूबसूरत मोहतरमा अभिनेत्री मनीषा कोइराला जो के काफी लंबे समय के बाद तथा कैंसर पर अपनी जंग जीत के एक बार फिर से फिल्मो में लौट आई है तथा आज उनके दमदार अभिनय से सजी फिल्म ‘डियर माया’ भी भारतीय सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। मनीषा कोइराला कई सालों बाद एक बार फिर बड़े परदे पर दिखाई दे रही हैं। मनीषा की यह फिल्म उनपर व दो लड़कियों की कहानी पर आधारित है।

फिल्म के निर्देशन पर अगर बात करे तो फिल्म में शिमला के लोकेशन पर बहुत ही अच्छी फोटोग्राफी हुई है। साथ ही साथ फिल्म का डायरेक्शन और लोकेशंस के साथ-साथ कैमरा वर्क और सिनेमैटोग्राफी कमाल की है। फिल्म में अभिनेत्री मनीषा कोइराला ने अपना शानदार काम किया है जिसके लिए वह जानी जाती है। फिल्म में मनीषा ने माया के किरदार में एक प्रकार से जान फूंक दी है। तो वही, श्रेया चौधरी, मदीहा इमाम का काम भी सहज है। बाकी कलाकारों ने भी अच्छा काम किया है। फिल्म का संगीत और बैकग्राउंड स्कोर अच्छा है। अगर आप अभिनेत्री मनीषा कोइराला के जबरदस्त फैन्स है तो फिल्म को एक बार जरूर देख सकते है।

फिल्म की कहानी शुरू होती है दो दोस्तों से जिनका नाम है एना ‘मदीहा इमाम’ और इरा ‘श्रेया चौधरी’ एना व इरा जो के शिमला के एक ही स्कूल में पढ़ने वाली दो दोस्त है, देखा जाए तो एना व इरा जो के वही अपने पास में रहने वाली माया ‘मनीषा कोइराला’ को हमेशा से ही दुःख के क्षणों में ही देखती रहती है। यह दोनों ही माया को खुश करने की बहुत सी कोशिश भी करती हैं। जैसे की कई सारे लेटर माया को लिखकर भेजना। फिर बाद में एक वक्त पर दुखी व अपने में ही मरहूम माया उन सभी  चिट्ठियों को पढ़ती है तो अलग ही दुनिया में खो जाती है। कुछ दिनों बाद एक दिन ऐसा आता है, जब माया गायब हो जाती है। अब दोनों लड़कियां परेशान हो जाती हैं और माया को ढूंढने की कोशिश करती है। तथा धीरे धीरे माया को ढूंढने के दौरान फिल्म में काफी उतार चढ़ाव आते है व फिर बाद में कहानी का अंजाम भी होता है, इन सभी को पहलुओं को जानने के लिए आपको यह फिल्म निहारने के लिए सिनेमाघर जाना होगा।

You might also like