Gossipganj.com
Film & TV News

मूवी रिव्यु: फ़िल्म ‘फेमस’ चंबल में हिंसा और त्रासदी की कहानी है

केके मेनन, पंकज त्रिपाठी और जैकी श्रॉफ की एक्टिंग के लिए ज़रूर देखा जा सकता है

पिछले कुछ सालों में बॉलीवुड में गांव से जुड़ी फिल्मों को पर्दे पर दिखाने का चलन बढ़ा है। ऐसे में ‘फेमस’ पर लीक से हटकर बेहतर ट्रीटमेंट फिल्म होने का दबाव भी है। के के मेनन, जैकी श्रॉफ, जिमी शेरगिल और पंकज त्रिपाठी जैसे फेमस सितारों से सजी, लगभग दो घंटे की फ़िल्म फेमस में उत्तर भारत के एक गांव में फैली हिंसा और त्रासदी को दिखाया गया है। 90 के दशक में इस तरह की फिल्मों का काफी जोर था, हालांकि फिल्म फेमस की मार्केटिंग को देखते हुए फिल्म की सफलता को लेकर कुछ भी कहना मुश्किल है। 

फिल्म फेमस चंबल क्षेत्र के इर्द गिर्द घूमती है। यहां कई महिलाओ को किडनैप कर उनकी जबरदस्ती शादी करा दी जाती है। क्षेत्र में कड़क सिंह (के के मेनन) नाम के शख़्स का दबदबा है। वो शंभू (जैकी श्रॉफ) की बेटी को किडनेप करने की कोशिश करता है लेकिन वो किसी तरह अपनी बेटी को बचा लेता है। शंभू (जैकी श्रॉफ) को इसकी कीमत चुकानी पड़ती है और भ्रष्ट नेताओं राम विजय (पंकज त्रिपाठी) और बब्बन( जमील खान) के साथ मिलकर कड़क सिंह, शंभू को जेल में डलवा देता है। क्षेत्र के गन कल्चर से प्रभावित एक नौजवान शख्स की फिल्म में एंट्री होती है और राधे नाम का ये शख़्स, कड़क सिंह को अपना आयडल मानता है लेकिन जब धूर्त राम त्रिपाठी राधे की बीवी पर ही गंदी नज़रें डालने लगता है तो फ़िल्म फेमस की कहानी दिलचस्प होना शुरू होती है।

फिल्म फेमस में कई सालों की कहानी को दिखाया गया है, इसके बावजूद फिल्म में कोई भी केरेक्टर बूढ़ा नहीं होता। फिल्म फेमस में दीप राज राणा, राधे के भाई के तौर पर दिखाई देते हैं लेकिन उनका केरेक्टर बेहद कम समय के लिए स्क्रीन पर दिखता है। फिल्म फेमस में के के मेनन, पंकज त्रिपाठी और जमील खान, जैकी श्रॉफ जैसे कई मंझे हुए कलाकार हैं और इसी को फ़िल्म की यूएसपी माना जा रहा था। फिल्म को केके मेनन, पंकज त्रिपाठी और जैकी श्रॉफ की एक्टिंग के लिए ज़रूर देखा जा सकता है।