Gossipganj.com
Film & TV News

नेहा राणा ने कहा बी.सुभाष के साथ काम करना मेरे लिए सपना सच होने जैसा

नेहा राणा अपनी आगामी फिल्म ‘डिस्को डांसिंग स्टार’ के साथ हिंदी फिल्म में डेब्यू कर रही हैं, और बताती हैं की बी.सुभाष के साथ काम करना उनके लिए एक सपना सच होने जैसा है, जिन्होंने मिथुन चक्रवर्ती स्टारर सफल फिल्म ‘डिस्को डांसर’ का भी निर्देशन किया है।

फिल्मकार बी. सुभाष के साथ काम करने के अपने अनुभव को साझा करते हुए, जिन्होंने मिथुन चक्रवर्ती अभिनीत फिल्म ‘डिस्को डांसर’ का निर्देशन भी किया है, नेहा ने कहा, “बहुत ही शानदार अनुभव था, और इतने बड़े निर्देशक के साथ काम करना मेरे लिए सम्मान की बात है। उन्होंने इतनी हिट फिल्में दी हैं। मैं बचपन से ही ’लव लव’ और ‘एडवेंचर्स ऑफ टार्जन’ जैसी फिल्में देखती आई हूँ, और मुझे उन फिल्मों के सभी गाने बहुत पसंद थे। इतने बड़े निर्देशक के साथ काम करना मेरे लिए सौभाग्य की बात हैं, और एक सपना सच हो जाने जैसा हैं।”

फिल्म में अपनी भूमिका निभाने के लिए उन्होंने विभिन्न प्रकार की तैयारी के बारे में बात करते हुए कहा, “मैं कोई ट्रैन्ड डांसर नहीं हूँ, लेकिन हमें इसके लिए बहुत सारे ट्रेनिंग सेशंस किये हैं, जहाँ हमने साल्सा, हिप-हॉप, शास्त्रीय और समकालीन जैसे नृत्य के विभिन्न रूपों की जम की रिहर्सल की हैं, फिल्म में हर तरह के डांस का मिश्रण है।”

जब नेहा से पूछा गया कि क्या उन्हें कोई दबाव महसूस हो रहा है क्योंकि उनकी पहली फिल्म एक सफल फिल्म की रीमेक है, तो उन्होंने कहा, “हम इसे संभव बनाने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि हम नए कलाकार हैं, इसलिए हम अपनी तरफ से पूरी कोशिश करेंगे। हमने वास्तव में इस फिल्म में अपनी मेहनत लगाई है। हमें विभिन्न कोरियोग्राफरों द्वारा प्रशिक्षित किया गया है।”

फिल्म के शूटिंग शेड्यूल के बारे में बात करते हुए, नेहा ने कहा, “यह लगभग पूरा हो गया है और फिल्म का ट्रेलर बहुत जल्द लॉन्च होने वाला है।” अपने दूसरे प्रोजेक्ट्स के बारे में बात करते हुए नेहा बोली, “मैं आलरेडी अपनी नेक्स्ट साउथ-इंडियन फिल्म की शूटिंग कर रही हूँ, जिसमे सुभाष हीरो हैं. यह फिल्म इसी साल रिलीज़ होगी, इसकी मैं उम्मीद करती हूँ. और यह कन्नड़ और तमिल भाषा में रिलीज होगी।“

जब नेहा से पूछा गया कि वह किस बॉलीवुड अभिनेत्री से इंस्पिरेशन लेती हैं, तो उन्होंने कहा, “मैं कंगना रनौत से बहुत प्रेरित हूं। मैंने उनके बारे में बहुत सारी बातें पढ़ी हैं। मेरे लिए, वह कुछ अलग ही हैं! मैं वास्तव में उनकी और उनके काम की प्रशंसा करती हूं। वह मुंबई में अकेली आईं और खुद को इस मक़ाम पर पहुंचाया,  मैं भी यही करना चाहती हूं।’