Gossipganj.com
Film & TV News

राजकुमार राव की स्त्री देश के इस हाइटेक शहर में फैले अंधविश्वास की कहानी है

राजकुमार राव और श्रद्धा कपूर स्टारर हॉरर कॉमेडी फिल्म स्त्री रिलीज हो गई है। इस फिल्म को आप भले ही अब तक ना देख पाएं हों लेकिन इसका ट्रेलर ज़रूर देखा होगा। दरअसल इस फिल्म की कहानी उस शहर पर आधारित है जो आज हाइटेक माना जाता है। 1990 के दौर में कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू में एक जबरदस्त अफवाह फैली थी। ये अफवाह एक चुड़ैल के बारे में थी। माना जाता था कि एक चुड़ैल रात के वक्त शहर की गली-मोहल्लों में घूमती है और मर्दों की तलाश में रहती है।

उस दौर में कर्नाटक के लोगों में दहशत फैल गई थी और लोग इस अंधविश्वास के चलते रात को घर से बाहर भी नहीं निकलते थे। लेकिन आखिरकार लोगों ने इस चुड़ैल से बचने का एक तरीका सोचा। ये तरीका था नाले बा। नाले बा का मतलब है कल आना। उस दौर में लोग अपने घर के बाहर नाले बा लिख देते थे। लोगों का ऐसा मानना था कि दरवाजे पर नाले बा लिखा देख कर चुड़ैल वापस लौट जाती है।

अफवाह थी कि ये चुड़ैल लोगों के घर का दरवाज़ा खटखटाती और प्यारी सी आवाज़ में घर पर मौजूद पुरूषों को आवाज़ लगाती थी। अक्सर ये आवाज़ पुरूष की मां या बहन जैसी होती थी। अगर ये आवाज़ सुनकर पुरूष बाहर आ जाता था तो चुड़ैल उसे 24 घंटों के अंदर मार देती थी।

हालांकि, आज तक इस अंधविश्वास का कोई खुलासा नहीं हुआ है। लेकिन, कर्नाटक में हर 1 अप्रैल को ‘नाले बा डे’ मनाते हैं। चुड़ैल के डर से लोग अपने घर के बाहर- ‘ओ स्त्री कल आना’ लिखते हैं। पूजा की चार रातों में गांव के अंदर स्त्री का कहर बढ़ जाता है। हालांकि, राजकुमार राव की फिल्म के मेकर्स ने साफ किया है कि फिल्म किसी भी तरीके से अंधविश्वास को बढ़ावा नहीं देती है। गौरतलब है कि स्त्री की कहानी मध्य प्रदेश के चंदेरी नामक स्थान पर बेस्ड है। इस फिल्म में राजकुमार राव, श्रद्धा कपूर के अलावा पंकज त्रिपाठी भी मुख्य भूमिका में है।