Gossipganj
Film & TV News

शाहिद कपूर ने कंगना रनौत का कहा, थैक्य यू, पद्मावती के सपोर्ट के लिए

0 51

शाहिद कपूर ने कंगना रनौत का कहा, थैक्य यू, पद्मावती के सपोर्ट के लिए , फिल्म ‘पद्मावती’ में प्रमुख भूमिका निभा रहे अभिनेता शाहिद कपूर ने कंगना रनौत को फिल्म का समर्थन करने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि रचनात्मक लोगों को डरना नहीं चाहिए। रीबॉक फिट टू फाइट अवार्ड समारोह में गुरुवार रात उपस्थित हुए शाहिद कपूर ने कहा, “आप आभारी महसूस करते हैं जब लोग आपकी सहायता करते हैं, इसलिए मैं कंगना और ‘पद्मावती’ के लिए बोलने वालों का आभारी हूं, वे बहुत अच्छे और बहादुर हैं जो सामने आए और खुद को अभिव्यक्त किया।” शाहिद कपूर ने कहा, “कभी-कभी गुस्सा आता है, कभी-कभी लोग भावनात्मक हो जाते हैं, कभी-कभी वे इसे तार्किक ढंग से तोड़ते हैं लेकिन फिल्म उद्योग में बहुत सारे ऐसे लोग हैं, जो फिल्म के लिए सामने आए और इस पर बोला।”

फिल्म ‘पद्मावती’ की अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को मिली धमकी का विरोध करते हुए अभिनेत्री कंगना रनौत ने कहा था कि हमें समाज में मौजूद पितृसत्ता व उग्र-अंध भक्ति (शोवनिज्म) पर हमला बोलने की जरूरत है। कंगना गुरुवार रात ‘रीबॉक फिट टू फाइट अवार्ड्स’ में शामिल हुईं। यहां उनसे विवादित फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर दीपिका पादुकोण को मिली धमकी के बारे में पूछा गया। कंगना ने कहा, “यह बिल्कुल गलत है, लेकिन मुझे लगता है कि यह कोई हैरान करने वाला मामला नहीं है। जब मेरी बहन स्कूल में थी, उस पर एक छात्र ने तेजाब फेंक दिया और अब जब मैं पेशेवर माहौल में हूं, तो एक सुपरस्टार मुझे सलाखों के पीछे डालना चाहता है। तो, हमारे समाज में ये सब होना आम बात है।”

शाहिद कपूर ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि डर सही शब्द है। मुझे नहीं लगता कि रचनात्मक लोगों को डरना चाहिए क्योंकि आप संकुचित होने पर कुछ रच नहीं सकते। आप अगर स्वतंत्र और खुले नहीं हैं तो कुछ बना नहीं सकते। मुझे लगता है कि कला बड़े पैमाने पर समाज का एक प्रतिबिंब है। इसलिए विशेष रूप से लोकतंत्र में, स्वतंत्रता की एक निश्चित भावना से स्वयं को व्यक्त करना महत्वपूर्ण है।”

कंगना ने कहा था, ‘मैं दीपिका के सपॉर्ट में हूं और यह जरूरी नहीं है कि दीपिका के सपॉर्ट में जाने के लिए मुझे या किसी को किसी ग्रुप का सहारा लेना पड़े। इस समय अकेले भी सपॉर्ट किया जा सकता है और मैं पूरी तरह दीपिका के साथ हूं।’ मुंबई में आयोजित एक अवॉर्ड समारोह में पहुंची कंगना ने फिल्म को लेकर लोगों के सेंटिमेंटल होने पर कहा, ‘फिल्मों को लेकर लोगों का सेंटिमेंटल होना बहुत जरूरी हैं। यह कहना गलत है कि लोग फिल्म को लेकर सेंटिमेंटल न हों अगर हम लोगों तक पहुंचना चाहते हैं तो हम फिल्मों के द्वारा ही पहुंच सकते हैं।’

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...