Gossipganj
Film & TV News

बीइंग ह्यूमन को ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी में बीएमसी

0 37

बीइंग ह्यूमन को ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी में बीएमसी, सलमान खान हर वीक किसी न किसी वजह से चर्चा में आ ही जाते हैं। इस बार भी कुछ ऐसा ही है, लेकिन वजह कुछ अच्छी नहीं। सलमान फिलहाल अपने एनजीओ फाउंडेशन, बीइंग ह्यूमन को लेकर सुर्खियों में हैं। खबर है कि बीएमसी (बृहन्मुंबई महानगरपालिका ) की ओर से सलमान के इस एनजीओ को ब्लैकलिस्ट किया जा रहा है। ताजा रिपोर्ट के मुताबिक सलमान का एनजीओ वादों को पूरी तरह से निभाने में असफल रहा है और इस वजह से एनजीओ को ब्लैकलिस्ट भी कर दिया गया है। एडिशनल म्यूनिसिपल कमिश्नर ईडेज कुंदन ने भी इस खबर को सही करार दिया है।

दिसम्बर 2016 में बीएमसी ने पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में 12 डायलिसिस सेंटर खोलने का फैसला किया था। इस अग्रीमेंट के तहत बीएमसी जगह मुहैया कराती, जबकि ‘बीइंग ह्यूमन’ पर उन सेंटर्स के स्टाफ और मेंटनेंस की जिम्मेदारी थी। बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया, ‘बांद्रा (पश्चिम) में डायलिसिस सेंटर के लिए ‘बीइंग ह्यूमन’ को शॉर्टलिस्ट किया गया था। एनजीओ को बैंक गारंटी के साथ इस प्रॉजेक्ट के लिए सभी जरूरी परमिशन दे दी गई थी, इसके बावजूद काम शुरू नहीं हुआ। हमने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए यह ब्लैकलिस्ट करने की चेतावनी दी है।’

बीइंग ह्यूमन को ब्लैकलिस्ट करने की वजह यह बताई गई है कि प्रॉजेक्ट अलॉट होने के एक साल के बाद भी डायलिसिस यूनिट्स अब तक स्थापित नहीं हुए। बीएमसी की ओर से फाउंडेशन को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है और इसके साथ ही सलमान के इस एनजीओ का डिपॉजिट भी जब्त कर लिया गया है। बताया गया है कि अब इस प्रॉजेक्ट के लिए नया टेंडर तैयार किया गया है। वहीं दूसरी तरफ बीइंग ह्यूमन की तरफ से सामने आ रहे बयान में दूसरी कहानी कही जा रही है, ‘फाउंडेशन को कुछ जरूरी बातें अपने कॉन्ट्रैक्ट में शामिल करनी होती हैं। इस बारे में बातचीत चल रही थी, लेकिन बात बन नहीं पाई। इस बारे में कोई फॉर्मल कॉन्ट्रैक्य या एएमयू साइन नहीं किया गया था।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...