Gossipganj
Film & TV News

दिलीप कुमार की 250 करोड़ की प्रॉपर्टी हड़पने की कोशिश, EoW ने मारे छापे

0 24

दिलीप कुमार की 250 करोड़ की प्रॉपर्टी हड़पने की कोशिश, EoW ने मारे छापे, फिल्म अभिनेता दिलीप कुमार और उनकी पत्नी सायरा बानो की शिकायत पर मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने समीर भोजवानी के खिलाफ 250 करोड़ रुपये के सम्पत्ति विवाद में मामला दर्ज किया है। मामला दर्ज करने से पहले ईओडब्ल्यू ने बिल्डर के ऑफिस और घरों पर छापे भी मारे थे। गौरतलब है कि सायरा बानो ने पिछले दिनों मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को चिट्ठी लिखकर उन्हें बिल्डर समीर भोजवानी से बचाने की गुहार लगाई थी। इस चिट्ठी में सायरा ने लिखा था कि बिल्डर ने कुछ फर्जी दस्तावेजों के जरिए उनकी संपत्ति पर कब्जा करने की धमकी दी है। कथित तौर पर भोजवानी ने धमकी दी थी कि वह राजनीतिक तौर पर काफी ताकतवर है और उनके खिलाफ आपराधिक मामले भी दर्ज करा सकता है।

जानकारी के अनुसार दिलीप कुमार ने यह प्रॉपर्टी 1953 में खरीदी थी। यह विवाद मुंबई के बांद्रा इलाके के पाली हिल में स्थित दिलीप कुमार की करीब 250 करोड़ रुपये की संपत्ति का है, जिसे डिवेलप करने के लिए उन्होंने प्रजीता डिवेलपर्स के साथ 2006 में करार किया था। करार के बाद जब 2008 तक डिवेलपर्स ने काम शुरू नहीं किया तो दिलीप कुमार और सायरा बानो ने करार रद्द कर दिया और बंगले और संपत्ति को सौंपने की मांग कर दी। मामला उच्चतम न्यायालय में पहुंचा और 11 साल चली सुनवाई के बाद इस साल सितंबर में न्यायालय ने दिलीप और सायरा के पक्ष में फैसला दिया।

इसके पहले साल 2014 में दिलीप कुमार के एफिडेविट के मुताबिक, वह बंगला जिसमें वह अपनी पत्नी और भाइयों के साथ रह रहे थे, उसे उन्होंने खुद अपनी कमाई से 1953 में खरीदा था। लेकिन उन्होंने अपने भाइयों को वहां रहने की इजाजत दी हुई थी। बंगले का प्लॉट एक खताऊ ट्रस्ट के नाम है। इस ट्रस्ट ने हसन चमरुद्दीन के पक्ष में 999 साल के लिए किराए की डील साइन की थी, जिनसे दिलीप कुमार ने राइट्स खरीद लिए थे। 2006 में दिलीप कुमार ने बंगले को दोबारा विकसित करने का तय किया और शरयंस रिसोर्सेस लिमिटेड के साथ उसी साल जून में करार साइन किया। तब उन्होंने अपने भाइयों से बंगला खाली करने के लिए कहा, क्योंकि उसे बिल्डर को सौंपना था, जिस पर अहसान और असलम ने इनकार कर दिया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...