Gossipganj
Film & TV News

उत्तर प्रदेश में जगह जगह पद्मावत का उग्र विरोध, नोएडा से इलाहाबाद तक बवाल

1

उत्तर प्रदेश में जगह जगह पद्मावत का उग्र विरोध, नोएडा से इलाहाबाद तक बवाल, पद्मावती की रिलीज़ डेट नज़दीक आने के साथ ही राजपूत संगठनों का विरोध उग्र होता जा रहा है। एक तरफ करणी सेना के संरक्षक लोकेंद्र सिंह कालवी ने पद्मावत देखने के संजय लीला भंसाली के निमंत्रण को ठुकरा दिया है तो दूसरी तरफ उनका संगठन हर तरह का विरोध कर रहा है। कल नोएडा में करणी सेना ने हिंसक प्रदर्शन किया तो सोमवार को आगरा में सिनेमा हॉल को उड़ाने की धमकी दी गई, जबकि हापुड़ के पिलखुवा में सिनेमा हॉल में तोडफ़ोड़ की गई। उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्से से लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश तक करणी सेना और उसके साथी संगठन विरोध कर रहे हैं।

इलाहाबाद में फिल्म पद्मावत के विरोध में सोमवार को नैनी क्षेत्र में सिनेमाघर तिराहे के पास अखिल भारतीय क्षत्रिय कल्याण महासभा छात्र प्रकोष्ठ ने विरोध प्रदर्शन कर जाम लगाया। विरोध कर रहे युवकों ने जमकर नारेबाजी की। पुलिस ने पहुंच मामला शांत करा दिया। आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने संजय लीला भंसाली का पुतला भी फूंका। विरोध प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव नूतन सिंह ने सिनेमा घर संचालकों को चेतावनी दी है कि यदि फिल्म दिखाई गई तो अंजाम बुरा होगा।

हापुड़ के पिलखुवा में बस स्टैंड स्थित सत्यम वीएस सिनेमा हॉल में सोमवार शाम शरारती तत्वों ने पथराव कर दिया। मैनेजर गौरव रुहेला ने बताया कि 20-25 युवक मुंह पर कपड़ा बांधकर आए थे। उन्होंने सिनेमा हॉल पर पथराव किया और सिक्योरिटी गार्ड से मारपीट की। इस संबंध में कोतवाली में तहरीर दी गई है। पुलिस अधीक्षक पवन कुमार ने बताया कि जांच पड़ताल कर नियमानुसार कार्रवाई की जा रही है।

पद्मावत फिल्म को लेकर रविवार को नोएडा में डीएनडी पर हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद शहर के सभी मॉल व मल्टीप्लेक्स के बाहर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। खुफिया एजेंसियों को भी अलर्ट कर दिया गया है। एसपी सिटी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि रविवार को हुए बवाल के मामले में नोएडा में एक केस दर्ज हुआ है। जिसमें 200 अज्ञात आरोपी हैं। इस केस में मौके से 13 आरोपी गिरफ्तार हुए थे। अब गिरफ्तार आरोपियों की संख्या 16 हो चुकी है। दो अन्य आरोपियों को बाद में देहात क्षेत्र से पकड़ा गया जबकि एक आरोपी दोस्त की पैरवी करने कोतवाली पहुंचा तो उसे वहीं गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि करणी सेना, राजपूत उत्थान समिति, क्षत्रिय सभा सहित कुछ अन्य राजपूत संगठन से जुड़े लोगों पर नजर रखने के लिए पुलिस ने सोशल मीडिया पर नजर रखना शुरू कर दिया है।

आगरा में हिंदूवादी और राजपूत संगठन के लोग सिनेमाघरों पर जाकर उनके संचालकों को पत्र दे रहे हैं, जिसमें फिल्म को न दिखाने का आग्रह किया गया है। कुछ सिनेमाघरों में धमकी भरी कॉल आ रही हैं। संजय टॉकीज में दो दिन पहले किसी ने कॉल कर धमकी दी कि पद्मावत दिखाई तो टॉकीज उड़ा देंगे या आग लगा देंगे। इसी तरह की कॉल कई अन्य सिनेमाघरों में भी आई हैं। सोमवार को संजय टॉकीज के मैनेजर चांद ने एसपी सिटी कुंवर अनुपम सिंह को मामले की जानकारी देकर सुरक्षा की मांग की। सिनेमाघर संचालक फिल्म न दिखाने का मन बना चुके हैं। श्री टॉकीज के मैनेजर सुरेंद्र सिंह ने बताया कि उनके यहां अब पद्मावत फिल्म नहीं दिखाई जा रही।

Leave A Reply

Your email address will not be published.