कंगना रनौत ने पद्मावती मसले पर कहा, अब हमें एकजुट होने की ज़रूरत है

0
92
कंगना रनौत ने पद्मावती

कंगना रनौत ने पद्मावती मसले पर कहा, अब हमें एकजुट होने की ज़रूरत है , फिल्म पद्मावती पर जारी विवाद के बीच कंगना रनौत भी दीपिका पादुकोण के समर्थन में आ गई हैं। कंगना ने कहा, ‘हमारे आस-पास जो कुछ भी हो रहा है, उसे लेकर हमें एकजुट होने की जरूरत है। यह बहुत गलत है लेकिन इससे लोगों को हैरान नहीं होना चाहिए, सभी जानते हैं कि जब मेरी बहन स्कूल में थी तब उस पर तेजाब हमला हुआ था या अब जबकि मैं पेशेवर माहौल में हूं एक सुपरस्टार रितिक रोशन ने मुझे जेल पहुंचाने की कोशिश की।

अभिनेत्री ने कहा कि फिल्में एक शक्तिशाली माध्यम हैं और यह कहना गलत होगा कि किसी को उनके बारे में भावनात्मक नहीं होना चाहिए। कंगना ने इससे पहले एक बयान में कहा था कि वह ऐसी किसी अर्जी पर दस्तखत नहीं करेंगी क्योंकि इसे ऐसे शख्स (शबाना आजमी) ने शुरु किया है, जिन्होंने मेरा चरित्र हनन किया। उन्होंने कहा कि वह निजी तौर पर दीपिका का समर्थन करती हैं लेकिन वह इस अर्जी पर हस्ताक्षर नहीं करेंगी।

इसे भी पढ़िए:   एक्स ब्वॉयफ्रैंड के मम्मी पापा ने दीपिका पादुकोण को पद्मावत के लिए भेजा गिफ्ट!

उन्होंने कहा कि हमारे देश में मौजूदा स्थिति के बारे में मेरे अपने विचार और दृष्टिकोण हैं। मैं ऐसी कई चीजों से दूरी बरतती हूं या उस शख्स द्वारा शुरु किए गए दीपिका बचाओ नामक महिलावादी आंदोलन का हिस्सा नहीं बनने जा रही हूं, जिसने उस वक्त मेरा चरित्र हनन किया था, जब मुझे डराया धमकाया जा रहा था। वह भी उन्हीं में से एक हैं। उन्होंने कहा कि अनुष्का ने मेरी बात समझी लेकिन मुझे खुशी है कि उन्होंने मुझसे संपर्क किया।

इसे भी पढ़िए:   पूनम पांडे को तो अपनी हॉट फिगर दिखाने से मौका ही नहीं मिलता

बता दें कि फिल्म ‘पद्मावती’ के चलते संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण को जान से मारने की धमकी मिली है। 30 वर्षीय कंगना ने हाल में शबाना आजमी के नेतृत्व में शुरू किए गए दीपिका बचाओ अभियान का समर्थन करने से इनकार कर दिया था लेकिन कहा था कि वह फिल्म इंडस्ट्री के अपने साथी कलाकारों के साथ खड़ी हैं।

इसे भी पढ़िए:   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ पर तारीफ किए जा रहे हैं अरशद वारसी, जानिए क्यों

एक पुरस्कार समारोह से इतर कंगना ने कहा, ‘हमारे आस-पास जो कुछ भी हो रहा है, उसे लेकर हमें एकजुट होने की जरूरत है। चाहे अकेले या फिर मिलकर अगर हम अपने साथी कलाकारों की मदद कर सकते हैं तो हमें ऐसा करना चाहिए। हमारा पूरा समर्थन अपने साथी कलाकारों के साथ है। इस घटना की तुलना उन्होंने अपनी बहन पर हुए तेजाब हमले से की और कहा कि ऐसी चीजें समाज के पितृसत्तात्मक सोच को रेखांकित करती हैं और इनकी निंदा की जानी चाहिए। कंगना रनौत ने पद्मावती विवाद का समर्थन भी कर दिया और साथ ही ये भी बता दिया कि उनके साथ कोई नहीं खड़ा होता।

LEAVE A REPLY

eighteen − sixteen =