पद्मावती विवाद पर बोले निहलानी, मुझे भी सूचना प्रसारण मंत्रालय ने परेशान किया

0
59
पद्मावती विवाद पर बोले

पद्मावती विवाद पर बोले निहलानी, मुझे भी सूचना प्रसारण मंत्रालय ने परेशान किया , फिल्म निर्माता पहलाज निहलानी ने पद्मावती  विवाद के बीच अपने कार्यकाल के दौरान हुई मोदी सरकार से परेशानी का जिक्र किया है। भंसाली के सपॉर्ट में बोलते हुए निहलानी ने कहा, ‘क्यों भारत के एक श्रेष्ठ फिल्म निर्माता से बार-बार सफाई देने के लिए कहा जा रहा है? क्यों नहीं सीबीएफसी इस मुद्दे को निर्णायक रूप से साफ करने के लिए कोई कदम नहीं उठा रहा है।’

इसे भी पढ़िए:   लव सोनिया में दिखेगा रिचा चड्ढा का बेहतरीन लुक, देखिए तस्वीरें

निहलानी ‘पद्मावती’ को सेंसर बोर्ड के देखने से पहले ही संसदीय समिति द्वारा डायरेक्टर संजय लीला भंसाली से सवाल करने के फैसले से चौंक गए हैं। उन्होंने कहा कि सूचना प्रसारण मंत्रालय ने उनके कार्यकाल के दौरान भी ऐसी ही दबंगई दिखाई थी और उन्हें परेशान किया था।

इसे भी पढ़िए:   सेंसर बोर्ड करेगा पद्मावती पर आखिरी फैसला, फिल्म रिलीज़ हो या ना हो

निहलानी के मुताबिक, ‘संसदीय समिति के पास भंसाली और किसी भी निर्माता से सवाल पूछने का पूरा अधिकार है, बशर्ते सीबीएफसी फिल्म को देख ले और उसे प्रमाण पत्र जारी कर दे। सेंसर प्रमाण पत्र से पहले उनसे सवाल करना सीबीएफसी के अधिकार क्षेत्र को चुनौती देना है क्योंकि बोर्ड ही किसी फिल्म के भाग्य का फैसला करने वाली अंतिम इकाई है।’ निहलानी ने कहा, ‘सीबीएफसी ने अपना प्रभुत्व खो दिया है। मेरे कार्यकाल के दौरान भी सूचना प्रसारण मंत्रालय ने निर्णय लेने के लिए मुझे भी परेशान किया था।’

इसे भी पढ़िए:   सोनू वालिया को एक शख्स भेज रहा था गंदे वाले वीडियो, आखिरकार...

LEAVE A REPLY