मुंबई पहुंचा लखनऊ, आप पहचान भी नहीं पाएंगे, जानिए हकीकत , फरहान अख्तर, डायना पेंटी और गिप्पी ग्रेवाल जैसे कलाकारों से सजी फिल्म लखनऊ सेंट्रल शुक्रवार को बड़े पर्दे पर रिलीज हो रही है। इस फिल्म की कहानी लखनऊ सेंट्रल जेल में घटी एक सच्ची घटना पर आधारित है। फिल्म में एक ऐसे शख्स की कहानी है जो म्यूजिशियन बनना चाहता है और जेल में रहते हुए ही अपना बैंड बना लेता है।

इसे भी पढ़िए:   बाप के बाद बेटे ने भी घुमा कर समझा दिया राम गोपाल वर्मा को

फिल्म में डायना पेंटी सोशल एक्टिविस्ट की भूमिका में नजर आएंगी जो कैदियों को बैंड बनाने के लिए प्रेरित करती हैं। डायना पहली बार किसी सोशल एक्टिविस्ट की भूमिका निभा रही हैं। सामाजिक कार्यकर्ता का रोल निभाने के लिए फिल्म के प्रोड्यूसर निखिल आडवाणी की पत्नी ने डायना की काफी मदद की है जो रीयल लाइफ में भी सोशल एक्टिविस्ट हैं।

इसे भी पढ़िए:   भंसाली के साथ जब सेट पर मारपीट हुई, गुस्से में रणवीर ने उठाने वाले थे कदम

साल 2007 में इसी तरह की एक घटना लखनऊ सेंट्रल जेल में हुई थी जिसपर फिल्म की कहानी बनाई गई है। फिल्म की कहानी जितनी दिलचस्प है, उनती है दिलचस्प है उसकी मेकिंग। फिल्म की मेकिंग के दौरान मुंबई फिल्मसिटी में इतना बड़ा सेट लगाया गया जितना आज तक किसी भी फिल्म के लिए नहीं लगाया गया था। फिल्म को यूपी का ओरिजिनल टच देने के लिए फरहान अख्तर ने खूब मेहनत की है।

इसे भी पढ़िए:   तलवों पर स्वास्तिक बनवाने के बाद, सोफिया हयात पर मामला दर्ज

LEAVE A REPLY

18 − 16 =