Gossipganj
Film & TV News

मासूम सिंह फिल्म बैक टू डैड से कर रहे हैं बॉलीवुड में डेब्यू

0 52

मासूम सिंह जो  ‘बैक टू डैड’ से पहली बार फ़िल्मी दुनिया में कदम रख रहे हैं, बताते है की फिल्म जगत में बने रहने के लिए सही प्रोजेक्ट का चुनना बहुत ज़रूरी है l हम से बात करते हुए मासूम सिंह ने बताया, “मैंने सुना था कि इस इंडस्ट्री में प्रवेश करना आसान है। मैं पिछले 7 सालों से इस इंडस्ट्री में काम कर रहा हूं, लेकिन आज भी, मुझे लगता है कि मुझे इस इंडस्ट्री में ज्यादा मान्यता नहीं मिली है, अगर आपको एक फिल्म मिल गई है और इसके रिलीज होने के बाद आपने जल्दी में बहुत सारे प्रोजेक्ट पर हस्ताक्षर किए हैं तो यह आपके करियर को उठा सकता है या आपको पीछे की तरफ भी धकेल सकता है l

मुझे लगता है कि इस इंडस्ट्री में काम करते समय प्रोजेक्ट को सावधानी से चुनना जरूरी होता है और जहां तक भाई-भतीजावाद  का सवाल है, यह मौजूद है, मुझे भी इसका सामना करना पड़ा, जब मैं मॉडलिंग कर रहा था और फिल्मों में भी मैंने अक्सर देखा कि इंडस्ट्री के लोगों को बाहरी लोगों की तुलना में ज़्यादा प्रेफरेंस  मिलती है। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि सभी लोग इस तरह से हैं लेकिन मैं इस फैक्ट से इनकार नहीं कर रहा हूं कि मैंने इसका सामना नहीं किया है।” अपनी फिल्म ‘बैक टू डैड’ के बारे में बात करते हुए, मासूम सिंह ने कहा, “यह मूल रूप से बाइबल के एक अध्याय से प्रेरित है और मैं इसमें लीड हीरो की भूमिका निभा रहा हूं। यह अमीर लोगों के बिगड़ैल लड़क़े  की कहानी है जो गलत राह पे निकल जाता है। मैं वास्तव में काफी उत्साहित हूं लेकिन फिल्म के लिए दर्शकों से  आयी प्रतिक्रियाओं को ले कर काफी  नर्वस भी  महसूस कर रहा हूं। मैं आशा करता हूं कि दर्शक  फिल्म से जुड़ाव महसूस करेंगे और इसकी  सराहना भी करेंगे l ”

फिल्म के ट्रेलर में , ‘दिल की सुनो या पिता की’ कहने वाली एक लाइन है, इसलिए जब उन्हें पूछा गया कि क्या वह वास्तविक जीवन में अपने पिता की बात सुनते  है, तो उन्होंने कहा, “वास्तविक जीवन में मैं परिस्थितियों के आधार पर निर्णय लेता हूं लेकिन अधिकांश समय मैं अपना निर्णय दिल से करता हूं, वास्तविक जीवन में मेरे पिता के साथ मेरा बहुत मजबूत संबंध है। मैं अपने पिताजी के साथ अपने जीवन के बारे में सब कुछ साझा करता हूं, वह मेरे दोस्त जैसे है l अपनी फ़िल्मी यात्रा के बारे में बताते हुए मासूम सिंह ने कहा, “जब मैं स्कूल में था, तब मैंने थिएटर करना शुरू कर दिया था और मुझे अभिनय और संगीत में हमेशा दिलचस्पी थी l  इसलिए मैंने कॉलेज ख़तम करने के बाद मॉडलिंग शुरू कर दि, क्योंकि मुझे कोई आईडिया नहीं था कि अभिनय में प्रवेश कैसे करना है l  तो मैंने विभिन्न ब्रांड्स  के लिए प्रिंट विज्ञापन किये  और इसके बाद मैंने एक रियलिटी शो किया, फिर मुझे कुछ टेलीविजन विज्ञापन में भी रोल मिला  लेकिन मुझे एहसास हुआ कि मैं मॉडलिंग में कैरियर नहीं बना सकता क्योंकि  एक टाइम के बाद आपको किसी के द्वारा रिप्लेस किया जाएगा , इसलिए मैंने  अभिनय कि और रुख किया l “प्रभात कुमार द्वारा निर्देशित ‘बैक टू डैड’ अनूप गादल द्वारा निर्मित है और बहुत जल्द ये सिनेमघरो में दिखाई देगी l

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...