Gossipganj.com
Film & TV News

दीपिका को उनकी बॉलीवुड मम्मी ने दिया प्रेशर कुकर, दीपिका ने कहा थैक्यू मम्मी

दीपिका को उनकी बॉलीवुड मम्मी ने दिया प्रेशर कुकर, दीपिका ने कहा थैक्यू मम्मी , बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण संजय लीला भंसाली की पीरियड फिल्म पद्मावती की शूटिंग शुरू कर चुकी हैं। ऐसे में उनका कोई करीबी चाहता है कि वह शूट पर घर का खाना मिस ना करें और हेल्दी खाना खाएं।

दीपिका पादुकोण की बॉलीवुड मम्मी कोरियोग्राफर और फिल्म मेकर फराह खान ने उनकी सेहत का खयाल रखते हुए उनके लिए प्रेशर कुकर भेजा। ताकि वह अपने लिए खाना बना सकें या बनवा सकें। फराह के इसी स्पेशल गिफ्ट की तस्वीर दीपिका ने इंस्टाग्राम पर शेयर की। इस तस्वीर को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, मां का प्यार, थैंक्यू मम्मी।

Ma ka Pyaar… Thank You Mommy!@farahkhankunder #nightshoot #dinner

A photo posted by Deepika Padukone (@deepikapadukone) on

हाल ही में दीपिका पादुकोण घर बदलने के चलते सुर्खियों में आई थीं। एक्ट्रेस ने गोरेगांव के वेस्टिन होटल में चेक इन किया था। ऐसा कहा जा रहा था कि रणवीर सिंह भी दीपिका के होटल के पास हाइराइज में चेक इन करने वाले हैं। दरअसल दोनों संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती के लिए यह सब कर रहे हैं।

दीपिका को उनकी बॉलीवुड मम्मी ने दिया प्रेशर कुकर, दीपिका ने कहा थैक्यू मम्मी

इस बारे में बात करते हुए प्रोडक्शन टीम के एक सूत्र ने मिड डे को बताया कि दोनों एक्टर के फिल्म सिटी के पास शिफ्ट हो जाने से वो दिन में कभी भी और किसी भी समय सेट पर उपस्थित हो सकेंगे। जिससे घंटो पहुंचने में लगने वाला समय बच जाएगा। दीपिका प्रभादेवी में जबकि रणवीर बांद्रा में रहते हैं।

दीपिका को उनकी बॉलीवुड मम्मी ने दिया प्रेशर कुकर, दीपिका ने कहा थैक्यू मम्मी

दोनों को गोरेगांव तक आने में काफी समय लगता है खासतौर पर पीक समय में। इसी वजह से जब तक दीपिका का शेड्यूल पूरा नहीं हो जाता वो होटल में रहेंगी। वो रात में शूटिंग कर रही हैं। रणवीर की शूटिंग जनवरी के मध्य से शुरू होगी और वो होटल हाईराइज में रुकेंगे।

दीपिका को उनकी बॉलीवुड मम्मी ने दिया प्रेशर कुकर, दीपिका ने कहा थैक्यू मम्मी

जी हां, यह बात तो सभी को अच्छी तरह से पता है कि भंसाली को यह बात बेहद पसंद है कि उनके एक्टर अपने किरदार की स्किन में फिट हो जाएं। इसी वजह से दोनों एक्टर फिल्म सिटी के नजदीक रह रहे हैं। इससे पहले बाजीराव मस्तानी के समय भी यह हो चुका है। इसी वजह से दोनों ने उसी फॉर्मूले को फिर से अपनाने का फैसला किया है।