Gossipganj.com
Film & TV News

दीपक तिजोरी की बीवी ने कहा धक्के मारकर घर से निकालती ऐसे पति को तो क्या करती

दीपक तिजोरी दाने दाने को मोहताज हो गए हैं। पत्नी शिवानी तोमर ने उन्हें घर से निकाल दिया है और अब शिवानी तोमर ने 20 साल की बेटी की परवरिश के लिए 40 हज़ार रुपये महीने की मांग की है।

90 के दशक में आई फिल्म ‘जो जीता वही सिकंदर’ तो याद होगी आपको। इस फिल्म में आमिर खान के साथ दीपक तिजोरी नजर आये थे।

इस फिल्म में आमिर खान के अलावा लोगों ने दीपक तिजोरी के अभिनय को काफी सराहा था। ये फिल्म देखने के बाद लाखों लोग उनके मुरीद बन गए थे।

दीपक ने ‘आशिकी’, ‘अंजाम’ और ‘कभी हां कभी ना’ जैसी फिल्मों में बेहतरीन अभिनय किया है। लेकिन आज दीपक तिजोरी का नाम जैसे कहीं गुम सा गया है। आज आलम यह है कि दीपक तिजोरी आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं और उनके पास अपनी बेटी को देने के लिए फूटी कौड़ी तक नहीं है।

पत्नी ने मांग की थी कि वह हर महीने बेटी की देखभाल के लिए 40 हजार रुपये उन्हें दें लेकिन पैसों की तंगी होने के कारण वह पत्नी की इस मांग को पूरी नहीं कर पा रहे।

इतने साल फिल्म इंडस्ट्री को देने के बावजूद यहां के लोगों ने उन्हें ठेंगा दिखा दिया है। अब दीपक के पास न कोई काम है और न ही कमाई का कोई जरिया। वह जैसे-तैसे अपने दिन काट रहे हैं।

उनकी बीवी शिवानी तोमर ने दीपक को घर से धक्के मारकर बाहर निकाल दिया है और तलाक के लिए कोर्ट में अर्जी दे दी है।

बता दें, दीपक अपनी पत्नी के साथ मुंबई के गोरेगांव के एक फ्लैट में रहते थे। इन दिनों दीपक के पास वैसे भी कोई काम नहीं है, ऊपर से पत्नी ने तलाक के साथ लाखों रुपये की अलुमानी की मांग की है।

दरअसल शिवानी को शक था कि दीपक का किसी से अफेयर चल रहा है। इसीलिए शिवानी ने दीपक से तलाक फाइल कर मुआवजे की मांग की।

दीपक के पास काम ना होने की वजह से वो उन्हें मुआवजा देने की हालत में नहीं थे। दीपक अब अपने दोस्त के साथ पीजी में रह रहे हैं।

हालांकि, एक सलाहकार के पास जाने पर दीपक को थोड़ी राहत जरूर मिली है। दरअसल, दीपक और शिवानी को पति-पत्नी नहीं मान सकते क्योंकि शिवानी ने अपने पहले पति को तलाक दिए बिना ही दीपक से शादी की थी। ऐसे में ये शादी अमान्य साबित हो जाती है।

वहीं दीपक तिजोरी की पत्नी शिवानी का कहना है, ‘दीपक तिजोरी के साथ मेरी शादी को 22 साल से भी ज्यादा हो चुके हैं। हमारी एक बेटी भी है।

लेकिन दीपक ने मर्यादा, नैतिकता और भावुकता की सारी सीमाएं लांघ दी हैं। मैंने अभी तक कुछ भी इसलिए नहीं बोला क्योंकि अभी सारी चीजें को लेकर हमारे बीच बात चल रही थी।

शिवानी ने कहा कि मेरे पास ना तो छुपाने के लिए कुछ है और ना ही मुझे किसी चीज से डरने की जरूरत है। अब सबूत के आधार पर कोर्ट को ही डिसाइड करने दीजिए। मुझे पूरा विश्वास है कि सच्चाई की जीत होगी।’

आपको ये खबर कैसी लगी आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं और मनोरंजन की खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें।