100 करोड़ के क्लब में पद्मावती शामिल, देश विदेश सरपट भाग रही है फिल्म!

0
32
100 करोड़

100 करोड़ के क्लब में पद्मावती शामिल, देश विदेश सरपट भाग रही है फिल्म! ‘पद्मावत’ को लेकर हुए करणी सेना के विरोध का असर फिल्म की कमाई पर बिल्कुल भी नहीं पड़ रहा है। इसलिए फिल्म देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी अच्छा बिजनेस कर रही है। खबर है कि फिल्म ने उत्तरी अमेरिका में अच्छी कमाई कर रही है। भारी विवाद के बाद रिलीज हुई संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ दर्शकों द्वारा काफी पसंद की जा रही है। इसका अंदाजा आप फिल्म के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन से लगा सकते हैं। ट्रेड एनालिस्ट रमेश बाला की रिपोर्ट के मुताबिक, पेड प्रिव्यू को मिलाकर फिल्म ने शुरुआती तीन दिनों में 83 करोड़ रु का आकंड़ा पार कर लिया है। फिल्म का ग्रोस कलेक्शन 106.25 करोड़ रहा है। यानि 100 करोड़ के क्लब से आगे पद्मावत निकल चुकी है।

देशभर में भारी विरोध-प्रदर्शन के बीच रिलीज हुई फिल्म ‘पद्मावत’ ने संजय लीला भंसाली की ही ‘बाजीराव मस्तानी’ से करीब दोगुनी कमाई कर ली। देशभर में रिलीज न हो पाने के बावजूद फिल्म ने पहले चार दिनों में 100 करोड़ रुपए कमा लिए हैं। जबकि, 2015 में आई बाजीराव मस्तानी चार दिन में 57 करोड़ रु। ही कमा पाई थी। जबकि दोनों ही फिल्म में स्टारकास्ट भी एक जैसी है। अगर पीरियड फिल्मों से इसकी बराबरी की जाए तो ‘बाहुबली-2’ की चार दिन की कमाई ‘पद्मावत’ से 78 करोड़ ज्यादा थी। फिल्म ट्रेड एनालिस्ट के मुताबिक इतने विरोध के बावजूद पद्मावत रविवार रात तक 150 करोड़ का कारोबार कर सकती है, क्योंकि लॉन्ग वीकेंड का फायदा इसे मिलेगा। फिल्म के लिए बहुत अच्छी एडवांस बुकिंग मिली है। अगर ये विरोध ना होता और फिल्म सही से हर जगह रिलीज़ हो जाती तो शायद 100 करोड़ दो दिन में ही पार कर सकती थी।

इसे भी पढ़िए:   ओरु अदार लव का टीजर रिलीज़, प्रिया प्रकाश वारियर ने फिर किया घायल

हालांकि, दूसरी तरफ फिल्म ट्रेड एनालिस्ट गिरीश जौहर को बिजनेस से ज्यादा चिंता लोगों की सिक्युरिटी की है। वे कहते हैं, “फिल्म की कमाई को लेकर एक अनुमान था कि यह पहले ही दिन 20 करोड़ कमाएगी, लेकिन इससे मिले सिर्फ 5 करोड़ रुपए, लेकिन दूसरे दिन इसने 19 करोड़ कमाए, तीसरे दिन 32 करोड़ और चार दिनों में इसकी कमाई देखें तो यह करीब 100 करोड़ तक पहुंच गई है। हालांकि, मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तरप्रदेश जैसे बड़े हिन्दी बेल्ट वाले प्रदेशों और गुजरात में पूरी तरह स्क्रीनिंग नहीं हो पाने का खामियाजा इसे उठाना पड़ रहा है। फिल्म 3500 स्क्रीन पर ही लग पाई, जबकि शुरुआती अंदाजा 4000 स्क्रीन पर रिलीज का था।”

इसे भी पढ़िए:   14 दिन में 100 करोड़ रुपए कमा लिए 'बद्रीनाथ की दुल्हनिया' ने

अगर ये फिल्म राजस्थान, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश में भी रिलीज हो जाती तो फिल्म राजस्थान में 4 करोड़, गुजरात में 12 करोड़, उत्तरप्रदेश में 10 करोड़, मध्यप्रदेश में 2 करोड़ रुपए और कमा सकती थी। फिल्म का चार दिनों का कुल कलेक्शन 28 करोड़ और हो सकता था। यानी कुल 128 करोड़ रुपए का करोबार फिल्म कर सकती थी। बाहुबली-2 के हिन्दी वर्जन ने शुरुआती चार दिनों में 178 करोड़ रुपए का कारोबार किया था। इस तरह बाहुबली से पद्मावत से 50 करोड़ रुपए पीछे रही है। वैसे सभी भाषाओं में बाहुबली-2 ने चार दिन में 383 करोड़ का कारोबार किया था।

इन चार राज्यों में फिल्म के न दिखाए जाने से इसे 30 से 35% का नुकसान हुआ है। फिल्म ने शुक्रवार तक 32 करोड़ रुपए कमाए थे। यानी उसे हर रोज करीब 10 करोड़ का नुकसान हो रहा है। अकेले गुजरात में 12 से 15 फीसदी तक का नुकसान हुआ है। भंसाली की फिल्में वहां काफी पसंद की जाती हैं। हालांकि, बाहुबली ने यह कलेक्शन तब किया था जब फिल्म देश में 6500 स्क्रीन पर ही रिलीज हुई थी।

अमेरिका, ब्रिटेन, पाकिस्तान में बिना कट्स के दिखाई जा रही है पद्मावत

नेटफ्लिक्स में इसके डिजिटल राइट्स 25.5 करोड़ में लिए थे। जबकि, पद्मावत के डिजिटल राइट्स एमेजॉन प्राइम ने 25 करोड़ में लिए हैं। विदेशों में 800 स्क्रीन पर लगी है। जिसमें अमेरिका, पाकिस्तान, ब्रिटेन समेत कई देशों में यह बिना किसी कट के रिलीज हुई है।”

बाजीराव के मुकाबले पद्मावत को कम स्क्रीन मिले

इसे भी पढ़िए:   सीक्रेट सुपरस्टार की कमाई पहुंची दुगने पर, बॉक्स ऑफिस पर मारी उछाल

आंकड़ों के लिहाज से देखें तो भारत में पद्मावत 3500 स्क्रीन पर आई और विदेशों में 800 स्क्रीन पर लगी है। जबकि बाजीराव मस्तानी भारत में 2700 स्क्रीन पर लगी थी, क्योंकि उसी समय शाहरुख की दिलवाले भी रिलीज हुई थी। यानी विदेशों में पद्मावत को उससे कम स्क्रीन मिले हैं। खैर पद्मावत 100 करोड़ के क्लब में शामिल हो ही चुकी है और अब उसे अपना सफर 100 करोड़ के आगे शुरु रखना है।

LEAVE A REPLY