अमरीश पुरी जिसकी आवाज़ ही कभी बॉलीवुड की पहचान थी, जन्मदिन विशेष

अमरीश पुरी जिन्होंने बॉलीवुड की फिल्मों में एक विलेन के तौर पर अपनी पहचान बनाई। आज उन्हीं का बर्थडे है। अमरीश पुरी एक्टर मदन पुरी के छोटे भाई थे।

अमरीश पुरी कड़क और रौबदार आवाज से बॉलीवुड में खलनायकी को एक नई पहचान दी। आज आपको इस मौके पर बताते हैं इनसे जुड़ी कुछ खास बातें।

अमरीश पुरी का जन्म पंजाब के नौशेरा गांव में 22 जून 1932 को हुआ था। अमरीश पुरी का पूरा नाम ‘अमरीश लाल पुरी’ था ।

हीरो बनने का सपना लेकर मुंबई आए अमरीश पहले ही स्क्रीन टेस्ट में फेल हो गए थे। अमरीश ने अपने करियर की शुरुआत श्रम मंत्रालय की नौकरी से की थी। इसके बाद उन्होंने नाटकों में अपना हुनर दिखाया।

उनकी आखिरी फिल्म किसना थी जो उनके निधन के बाद साल 2005 में रिलीज हुई थी। उन्होंने कई विदेशी फिल्मों में भी काम किया था।

पुरी ने इंटरनेशनल फिल्म गांधी में खान की भूमिका निभाई थी जिसके लिए उनकी खूब तारीफ हुई थी। अमरीश पुरी का निधन 72 साल की उम्र में 12 जनवरी 2005 को ब्रेन ट्यूमर की वजह से हो गया।

लगभग 40 साल की उम्र में अमरीश ने बॉलीवुड में डेब्यू किया था। उसके बाद उन्होंने ने लगभग 400 फिल्मों में काम किया था।

पुरी ने अपनी फिल्मी करियर की शुरुआत  साल 1971 में फिल्म ‘प्रेम पुजारी’ से की थी।  हालांकि इस फिल्म में उनका रोल बहुत छोटा था। 

इसके बाद उन्होंने फिल्म रेशमा और शेर में अमिताभ बच्चन के साथ काम किया। फिल्म ‘इंडिआना जोंस एंड द टेम्पल ऑफ डूम’ के लिए अमरीश ने अपने बाल शेव कराए थे और लोगों ने उनके अवतार को इतना सराहा की उन्होंने अपनी क्लीन शेव हेड की स्टाइल रख ली।

मनोरंजन की ताज़ातरीन खबरों के लिए Gossipganj के साथ जुड़ें रहें और इस खबर को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like