Gossipganj.com
Film & TV News

शम्मी कपूर को रिबेल स्टार कहा जाता था, उतने ही वो जिंदगी में भी विद्रोही रहे

0

शम्मी कपूर को रिबेल स्टार कहा जाता था, उतने ही वो जिंदगी में भी विद्रोही रहे , बॉलीवुड में शम्मी कपूर ऐसे अभिनेता रहे हैं जिन्होंने उमंग और उत्साह के भाव को बड़े परदे पर बेहद रोमांटिक अंदाज में पेश किया।  शम्मी कपूर को रिबेल स्टार, विद्रोही कलाकार की उपाधि इसलिये दी गयी क्योंकि उदासी, मायूसी और देवदास नुमा अभिनय की परम्परागत शैली को बिल्कुल नकार करके अपने अभिनय की नयी शैली विकसित की।  मुंबई में 21 अक्टूबर 1931 को जन्में शम्मी कपूर के पिता पृथ्वीराज कपूर फिल्म इंडस्ट्री के महान अभिनेता थे। घर में फिल्मी माहौल होने पर शम्मी कपूर का रूझान भी अभिनय की ओर हो गया और वह भी अभिनेता बनने का ख्वाब देखने लगे।

वर्ष 1953 में प्रदर्शित फिल्म जीवन ज्योति से बतौर अभिनेता शम्मी कपूर ने फिल्म इंडस्ट्री का रूख किया।  पहली पत्नी गीता से शम्मी की मुलाकात साल 1955 में फिल्म ‘रंगीन रातें’ की शूटिंग के दौरान हुई थी। इस फिल्म में शम्मी कपूर लीड रोल में थे लेकिन गीता का इस फिल्म में कैमियो था। इसी दौरान दोनों का प्यार परवान चढ़ा और इसके 4 महीने बाद दोनों ने मुंबई के बाणगंगा मंदिर में शादी कर ली। शादी के एक साल बाद 1 जुलाई 1956 को दोनों एक बेटे के पिता बने। उन्होंने अपने बेटे का नाम आदित्य राज कपूर रखा। इसके लगभग 5 साल बाद साल 1961 में दोनों की एक बेटी हुई जिसका नाम कंचन रखा गया।

शम्मी कपूर को रिबेल स्टार कहा जाता था, उतने ही वो जिंदगी में भी विद्रोही रहे

कपूर ने दो शादियां की थीं। उनकी पहली पत्नी गीता बाली एक्ट्रेस थीं। उन्होंने दूसरी शादी नीला देवी से की थी। एक्ट्रैस मुमताज का नाम कई अभिनेताओं के साथ जुड़ा। इनमें देवानंद, संजीव कुमार, जितेंद्र और शशि कपूर जैसे नाम प्रमुखता से लिए जाते हैं।

शम्मी कपूर को रिबेल स्टार कहा जाता था, उतने ही वो जिंदगी में भी विद्रोही रहे

मुमताज को चाहने वालों में शम्मी कपूर भी थे। दरअसल, शम्मी चाहते थे कि मुमताज अपना फिल्मी करियर छोड़कर उनसे शादी कर लें, लेकिन मुमताज इस बात पर राजी नहीं हुई। उनके इनकार के बाद दोनों के रास्ते अलग हो गए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...