जगजीत सिंह जिनकी ग़ज़लें रूह को दीवाना बना देती हैं, जन्मदिन विशेष

0
344
जगजीत सिंह

जगजीत सिंह जिनकी ग़ज़लें रूह को दीवाना बना देती हैं, जन्मदिन विशेष, जन्मदिन विशेष, आज जगजीत सिंह का जन्मदिन है। भारत में जब भी गजल गायिकी का जिक्र होगा जगजीत सिंह का नाम बड़ी अदब से लिया जाएगा। अगर वह आज इस दुनिया में होते तो अपना 77वां जन्मदिन मना रहे होते। ‘गजल किंग‘ कहे जाने वाले बेहतरीन गायक जगजीत सिंह को संगीत से बेहद प्यार था। उन्होंने संगीत में ही अपनी एक अलग दुनिया ढूंढकर निकाली थी। लेकिन उनकी निजी जिंदगी काफी उतार चढ़ाव से भरी हुई थी।

जगजीत का जन्म बीकानेर (राजस्थान) में हुआ था। पहले उनका नाम जगजीवन सिंह था बाद में उन्होंने इसे जगजीत सिंह कर लिया। उनके पिता चाहते थे कि जगजीत इंजीनियर बने पर उन्हें हमेशा से संगीत में रूचि रही। पढ़ाई के बाद ही जगजीत सिंह ने ऑल इंडिया रेडियो जालंधर में एक सिंगर और म्यूजिक डायरेक्टर के रूप में काम शुरू कर दिया था।

इसे भी पढ़िए:   आइटम बॉम्ब हुई 38 की , अाज भी है उतनी हॉट

साल 1965 में जगजीत अपने परिवार को बिना बताए मुंबई चले गए और संगीत की दुनिया में अपना संघर्ष शुरू कर दिया। मुंबई में जगजीत सिंह की मुलाकात एक बंगाली महिला चित्रा दत्ता से हुई। दोनों में प्यार हो गया और फिर साल 1969 में दोनों ने शादी कर ली। उन्हें एक बेटा विवेक भी हुआ।

जगजीत के बेटे विवेक की मात्र 18 साल की उम्र में एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। इसकी वजह से जगजीत और उनकी पत्नी काफी दुखी रहने लगे थे। जगजीत संगीत की दुनिया से दूर हो जाना चाहते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। जबकि उनकी पत्नी ने बेटे की मौत से दुखी होकर गाना तक छोड़ दिया था। भारत सरकार की तरफ से जगजीत सिंह को साल 2003 में ‘पद्म भूषण’ सम्मान से नवाजा गया था।

इसे भी पढ़िए:   मीना कुमारी, जिनके लिए निकाह एक सपना और तलाक एक हकीकत था- भाग 1

साल 1976 में जगजीत और चित्रा की एल्बम ‘द अनफॉरगेटेबल’ रिलीज हुई जिसकी काफी प्रशंसा हुई। इस एल्बम की वजह से दोनों कपल स्टार बन गए। एल्बम के एक गीत ‘बात निकलेगी’ को लोगों ने काफी पसंद किया था। जगजीत  और चित्रा सिंह एक साथ कई कॉन्सर्ट करते थे। साल 1980 तक जगजीत गजल किंग बन चुके थे। प्राइवेट एल्बम के साथ-साथ जगजीत ने फिल्मों में भी कई गजलें गाईं जिनमें ‘प्रेम गीत’, ‘अर्थ’, ‘जिस्म’, ‘तुम बिन’, ‘जॉगर्स पार्क’ जैसी फिल्में शामिल हैं।

इसे भी पढ़िए:   श्रुति सेठ ने बॉलीवुड में यौन उत्पीड़न पर मुहं खोला, हर कोई दंग रह गया

साल 2011 में जगजीत को यूके में गुलाम अली के साथ परफॉर्म करना था लेकिन सेरिब्रल हैमरेज की वजह से उन्हें 23 सितंबर 2011 को मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी हालत बिगड़ती चली गई और वो कोमा में चले गए। 10 अक्टूबर 2011 को जगजीत सिंह की मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

7 − 4 =