अच्छी शिक्षा होती तो मैं भी अंग्रेज़ी गाने गा सकती थी, आशा भोसले ने कहा

अच्छी शिक्षा होती तो मैं भी अंग्रेज़ी गाने गा सकती थी, आशा भोसले ने कहा , आशा भोसले को अच्छी शिक्षा हासिल न कर पाने का दुख है। आशा का कहना है कि अगर सही शिक्षा प्राप्त करके वह अंग्रेजी में भी गाने गातीं और बनातीं तो वर्तमान से भी और ऊंचाई हासिल कर सकती थीं।

अपने करियर में आशा ने हर प्रकार की शैली के गानों को अपनी आवाज दी है, जिसमें ‘झुमका गिरा रे’, ‘दम मारो दम’, ‘चुरा लिया है’, ‘दिल चीज क्या है’, ‘मेरा कुछ सामान’ और ‘प्रेम में तोहरे’ आदि गीत शामिल हैं। आशा ने जीनत अमान से उर्मिला मातोंडकर और रेखा से विद्या बालन तक सबके लिए अपनी आवाज दी है।

युवा पीढ़ी के लिए अपने संदेश के बारे में आशा ने कहा, ‘एक इंसान अपनी सफलता के लिए खुद ही जिम्मेदार होता है। अगर कोई दिन-रात मेहनत कर रहा है तो वह जरूर सफल होगा। आशा ने आगे कहा, ‘मैं अच्छी शिक्षा हासिल नहीं कर पाई। अब मुझे सच में मलाल होता है कि अगर मैं अच्छी शिक्षा हासिल करती तो अलग ही स्तर की उपलब्धि हासिल कर पाती।’

You might also like