मनमोहन सिंह की जगह लेंगे अनुपम खेर, जानिए क्या है सच

मनमोहन सिंह की जगह लेंगे अनुपम खेर, जानिए क्या है सच , बॉलीवड के दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर जल्द ही पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के किरदार को बड़े पर्दे पर निभाते हुए नजर आएंगे। साल 2014 में मनमोहन सिंह पर आधारित किताब ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ रिलीज हुई थी। इस किताब को 2004 से 2008 तक उनके मीडिया सलाहकार रहे संजय बारु ने लिखा है। इस किताब की रिलीज ने उस समय एक तूफान खड़ा कर दिया था, जिसकी वजह से कांग्रेस पार्टी को शर्मिंदा भी होना पड़ा था।

अनुपम खेर ने मनमोहन सिंह के किरदार को निभाने की खबर को कंफर्म करते हुए कहा, “ऐसे रोल करना काफी चुनौतीपूर्ण होता है क्योंकि इसमें आपकी तुलनाएं होती है। लेकिन मैंने मेरी पहली फिल्म ‘सारांश’ से ही मैंने चुनौतियों को स्वीकारा है इसलिए मैं पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का किरदार निभाने के लिए पूरी तरह तैयार हूं।”

हालांकि अनुपम खेर के अलावा बाकी की स्टारकास्ट को फाइनल नहीं किया गया है। बोहरा ने कहा, “फिल्म के ऊपर रिसर्च का काम पूरा हो गया है। बची हुई स्टार कास्ट के ऑडिशन भी आखिरी चरण में है।” तो वहीं इस फिल्म से निर्देशक के तौर पर अपनी पारी शुरु करने वाले गट्टे भी इस यूनिक कहानी को पर्दे पर उतारने के लिए  तैयार है। उन्होंने कहा- “मैं कृतज्ञ हूं कि मुझे ऐसी कहानी बताने कै मौका मिल रहा है जिसे कि पूरी ईमानदारी और सच्चाई के साथ बयान किया जाना चाहिए।”

यह किताब एक बार फिर से तूफान लाने के लिए तैयार है। इस बार इस तूफान को बड़े पर्दे पर निर्देशक विजय रत्नाकर गुट्टे ला रहे है, जो इस फिल्म के साथ अपने निर्देशन करियर का आगाज करेंगे। इस फिल्म में अनुपम खेर मनमोहन सिंह की भूमिका निभाएंगे। फिल्म का पहला लुक बुधवार को सामने आएगा। यह फिल्म अगले साल दिसंबर में रिलीज हो सकती है। वहीं आम चुनाव 2019 में होने वाले है।

यह फिल्म मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री के तौर पर पहले कार्यकाल पर आधारित होगी। इस फिल्म में पीएमओ के अंदर के काम-काज पर ज्यादा फोकस किया जाएगा। इस फिल्म को ‘गैंग्स ऑफ वासेपूर’ और ‘साहेब, बीवी और गैंगस्टर’ जैसी फिल्मों का निर्माण कर चुके सुनील बोहरा प्रोड्यूस कर रहे हैं। तो वहीं फिल्म का स्क्रीनप्ले राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित हंसल मेहता ने लिखा है। प्रोड्यूसर सुनील बोहरा के अनुसार यह फिल्म रिचर्ड एननबोरोग की एकेडमी अवॉर्ड विजेता फिल्म ‘गांधी’ से बड़ी राजनीतिक ड्रामा होगी।

You might also like